रैपर चैतन्य शर्मा उर्फ स्लोचीता, रणवीर सिंह के इंडिपेंडेंट म्यूजिक रिकॉर्ड लेबल इंक इंक के तहत काम करने को लेकर बेहद उत्साही हैं. उन्होंने कहा कि ‘बॉलीवुड सुपर पावर’ से जुड़कर स्वतंत्र कलाकारों को व्यापक स्तर पर मौका मिलेगा.

चैतन्य शर्मा ने बताया, “ऐसे कई सारे लोग हैं जो खुद को व्यक्त करना चाहते हैं और यह प्लेटफॉर्म उन्हें ऐसा करने का मौका देती है. आपको सही मौका मिलता है, यदि वे लॉन्च के लिए आपको पर्याप्त योग्य मान लेते हैं. अपनी आवाज को वहां तक पहुंचाने के लिए आपको जिस भी किसी चीज की आवश्यकता होगी, वह सबकुछ वे आपको देंगे और इस वक्त यही सबसे महत्वपूर्ण है.”

इस बात से कैटरीना कैफ को लगता है बहुत डर, किसी भी कीमत पर दूर ही रहना चाहती हैं

फिल्म ‘गली बॉय’ में रणवीर को उनके रैपिंग स्किल्स के लिए बहुत सराहा गया है. मार्च में रणवीर ने फिल्म निर्माता नवजार ईरानी के साथ मिलकर अपने म्यूजिक रिकॉर्ड लेबल–इंक इंक को लॉन्च किया है. इस म्यूजिक वेंचर के लिए रणवीर, रैपर्स काम भारी, स्लो चीता और स्पिटफायर के साथ मिलकर काम करेंगे.

बात जब म्यूजिकल वेंचर की आती है तो शर्मा, रणवीर के पक्ष में अपनी बात रखते हुए कहा : “ऐसा नहीं है कि रणवीर को इस बारे में कोई ज्ञान नहीं है और वह ऐसे ही अचानक से इस शोबिज में आ गए हैं. वह अपने काम को सही से जानते हैं, यह उनका कोई पब्लिसिटी स्टंट नहीं है बल्कि वह वाकई में हिप-हॉप को लेकर उत्साही हैं.”

काम की बात करें तो चैतन्य ने, आयुष्मान खुराना की फिल्म ‘आर्टिकल 15’ के गाने ‘शुरू करे क्या’ को डीएमसी, काम भारी और स्पिटफायर के साथ अपनी आवाज दीं हैं. इसके बारे में बात करते हुए रैपर ने कहा, “यह थीम वाकई में बहुत अच्छा है. यह अत्याचार और जातिवाद के बारे में है.”

(इनपुट आईएनएस)

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.