बॉलीवुड के किंग खान यानि शाहरुख़ पिछले महीने खूब चर्चा में रहे। शाहरुख़ खान ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा था की देश में इन्टोलेरेंस बढ़ गया है जिसके बाद उनकी खूब आलोचना हुई। लोग शाहरुख़ के बारे में बुरा भला कहने लगे। कुछ लोगों ने तो इतना तक कह दिया की शाहरुख़ देशद्रोही हैं और उन्होंने देश छोड़कर पकिस्तान चले जाना चाहिए। कुछ जगहों पर शाहरुख़ खान के पुतले भी जलाये गए। शाहरुख़ के इन्टोलेरेंस बयान का असर उनकी फिल्म ‘दिलवाले’ पर भी देखने को मिला। फिल्म को कई लोगों के बॉयकोट भी किया और फिल्म उम्मीद जितनी कमाई नहीं कर पाई। ये मामला अभी तक पूरी तरह से ख़त्म भी नहीं हुआ था की अब फिर शाहरुख़ खान ने इसपर कुछ कह दिया है।

हाल ही में शाहरुख़ खान किडज़ेनिया के एक इवेंट पर पहुंचे थे जहाँ उनसे फिर से इन्टोलेरेंस के बारे में पूछा गया। जहाँ पिछली बार शाहरुख़ खान ने अपने बयान से हंगामा मचा दिया था वहीँ इस बार शाहरुख़ ने सवाल को टाल दिया। शाहरुख़ ने इन्टोलेरेंस वाले सवाल पर कहा ‘मुझे लगता है ये जगह इन सवालों के लिए सही नहीं है। हम यहाँ बच्चों के बारे में बात करने आये हैं इसीलिए मुझे लगता यहाँ ऐसी बातों की चर्चा नहीं करनी चाहिए’। (सलमान ने की ‘बाजीराव मस्तानी’ की तारीफ, बढ़ गयी शाहरुख़ खान की मुसीबत)

शाहरुख़ खान ने बड़ी चालाकी से बात को टाल दिया। हो सकता है किंग खान समझ गए हैं की उन्हें ऐसे बयान पब्लिक प्लेटफार्म पर बोलने से हंगामा मच सकता है। और इससे उनकी इमेज तो खराब होगी ही साथ ही उनकी फिल्मों पर भी असर होगा। (ना शाहरुख़ खान और ना ही रोहित शेट्टी; सलमान खान की वजह से फ्लॉप हुई ‘दिलवाले’)