shamitabh-latest-poster-1

एक्टर: अमिताभ बच्चन, धनुष, अक्षरा हासन
निर्देशक: आर. बाल्की
रेटिंग: ***१/२

अगर आप इस वीकेंड बिग बी की बहुचर्चित फिल्म शमिताभ देखने का मन बना रहे हैं तो हमारा यह रिवियु खा आपके लिए हैं। शमिताब फिल्म में दो ही चीज़ो के लिए देखिये, एक अमिताभ की आवाज़ और दूसरी कोलावरी फेम धनुष् की अदाकारी के लिए। यह दोनों ही की वजह से लोग फिल्म से बंधे रहते हैं।

निर्देशक बल्कि हमेशा ही वर्सटाइल फिल्मे बनाने के लिए मशहूर हैं। इस बार भी उन्होंने दर्शको को निराश नहीं किया हैं। यह फिल्म है एक मूक लड़के दानिश (धनुष) की कहानी। दानिश मुंबई से करीब और नासिक ज़िले के एक गाव इगतपुरी में रहता है और लगभग हर भारतीय की तरह फिल्मो में हीरो बनाने का सपना देखता हैं। वह कई बार मुंबई की बस पकड़ने के बारे में सोचता हैं मगर वह ऐसा कर नहीं पाता हैं, लेकिन जब उसकी माता का देहांत होता है तो उसके पास गाव में रहने का कोई कारण नहीं बचता।

दानिश मुंबई आजाता हैं। और उम्मीद के अनुसार प्रड्यूसरों और डायरेक्टरों के ऑफिसो के चक्कर काटता हैं। नाकामी से मायूस होकर वह हिंसक होजाता हैं और एक सेट के बाहर गाड़ियों को नुक्सान पहुंचाता हैं। इस सेट पर अभिनेत्री अक्षरा हसन असिस्टेंट डायरेक्टर के रूप में काम कार्यरत रहती हैं। यहाँ दोनों की मुलाक़ात होती हैं और फिर शुरू होटी है दानिश को हीरो बनाने की कवायद।

अब दानिश की आवाज़ खोजने की बारी आती है। तभी फिल्म निर्माताओं की नज़र अमिताभ तिवारी (अमिताभ बच्चन)पर पड़ती है जो एक गेट के बाहर शराब की गुहार लगाता रहता है। तब से शुरू होता है शमिताब का सीलसिला। फिल्म में दोनों ही शुरुवात में एक साथ रहकर कामयाबी के आयामो को छूटे हैं मगर बाद में आपसी रंजिश की वजह से दोनों अलग होजाते हैं। जिससे दोनों का ही नुक्सान होता हैं।