बॉलीवुड एक्ट्रेस ऋचा चड्ढा ने कहा कि उनकी अपकमिंग फिल्म ‘शकीला’ और विद्या बालन की फिल्म ‘द डर्टी पिक्चर’ की तुलना करना लाजिमी है और वह इसको सकारात्मक रूप से ही लेती हैं. इंद्रजीत लंकेश के निर्देशन में बनी फिल्म ‘शकीला’ में ऋचा चड्ढा 90 के दशक की मशहूर अभिनेत्री शकीला का किरदार अदा कर रही हैं. शकीला ज्यादातर व्यस्क विषय-वस्तु और विवादित फिल्मों के लिए मशहूर रही हैं और उन्होंने तमिल, तेलुगु, मलयालम और कन्नड़ फिल्मों में काम किया है.

 

View this post on Instagram

 

Hello month of Jan! @shakeelafilm

A post shared by Richa Chadha (@therichachadha) on

‘द डर्टी पिक्चर’ में अभिनेत्री विद्या बालन ने अभिनेत्री सिल्क स्मिता का किरदार निभाया था. स्मिता एडल्ट फिल्मों में काम करने के लिए जानी जाती हैं. ऋचा से जब इन दोनों फिल्मों की तुलना के बारे में पूछा गया तो उन्होंने मीडिया से कहा, ‘‘इन दोनों फिल्मों में काफी समानता है, वह यह है कि यह दोनों ऐसी अभिनेत्रियों के जीवन के बारे में है, जिसे देखते सभी थे, लेकिन उसके काम को मान्यता नहीं देते थे और विवादित बताते थे.’

उन्होंने कहा, ‘‘दोनों फिल्मों में कोई तुलना नहीं है लेकिन मेरा मानना है कि लोग इसकी तुलना ‘द डर्टी पिक्चर’ से करेंगे. मैं इसे सकारात्मक रूप से लेती हूं क्योंकि विद्या बालन काफी अच्छी अभिनेत्री हैं और मिलन लुथरिया ने अच्छी फिल्म बनाई थी.’ चड्ढा ने कहा कि यह फिल्म शकीला के जीवन को संवेदनशील तरीके से दिखाती है. बता दें, शकीला ने अपने करियर की शुरुआत 1980 में की थी उसके बाद उन्होंने कभी मुड़कर नहीं देखा.

ऋचा भी इस फिल्म के लिए काफी मेहनत कर रही है. वो शकीला का किरदार निभाने में कोई कसर नहीं तोड़ना चाहती इसके लिए वे कुछ दिन पहले इस एडल्ट स्टार से मिलने भी गई थीं और अपने इस किरदार के लिए कुछ सबक भी लिए थे. शकीला, एक ऐसी कहानी है जो हमेशा से ही दर्शकों के आकर्षण का केंद्र रही है. वे मलयालम सिनेमा की ऐसी पहली महिला अभिनेत्री हैं जिन्होंने उस वक्त लोगों का ध्यान अपनी और खींचा था जिस वक्त फिल्में पुरुषों का वर्चस्व वाला बिजनेस बना हुआ था.

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ