साल 2012 में हुए भयावह निर्भया सामूहिक दुष्कर्म पर आधारित रिची मेहता की सात भागों वाली सीरीज ‘दिल्ली क्राइम स्टोरी’ का वर्ल्ड प्रीमियर अगले सप्ताह 2019 दिल्ली के सनडांस फिल्म फेस्टिवल में होगा. अवार्ड विजेता भारतीय-कनाडाई फिल्मकार का कहना है कि इस तरह के अवसर समय में बदलाव का संकेत हैं. उन्होंने कहा कि इस तरह के विषय पर काम करना बेहद मुश्किल था क्योंकि उन्हें यह सुनिश्चित करना था कि यह सिर्फ ड्रामा के लिए बुराई का चित्रण न करे.

मेहता ने मीडिया से बातचीत में कहा, “किसी भी स्थिति में सनडांस में इसकी स्क्रीनिंग होना सम्मान की बात है, मैंने इस सीरीज को कभी भी बड़े पर्दे पर दिखाए जाने की उम्मीद नहीं की थी.” उन्होंने कहा, “यह बदलते समय का संकेत है और जब इस तरह की एक प्रोजेक्ट-हिंदी भाषा, एक स्थानीय घटना के बारे में अंतर्राष्ट्रीय मंच पर दिखाती है तो मुझे लगता है कि यह बहुत महत्वपूर्ण है..अगर इसे दिखाना दुनिया के लिए मायने रखता है (जो कि मेरे लिए है).”

शो को गोल्डन कारवां और आइवनहो द्वारा प्रोड्यूस किया गया है. शो में शेफाली शाह, आदिल हुसैन, डेंजिल स्मिथ, रसिका दुग्गल, राजेश तैलंग और यशस्विनी दायमा शामिल हैं. सीजन वन के सभी सात एपिसोड मेहता द्वारा लिखे और निर्देशित किए गए हैं. अपराधियों को पकड़ने और उन्हें रिकॉर्ड समय में कठघरे में लाने के लिए दिल्ली पुलिस के प्रयासों के आसपास केंद्रित इस सीरीज में एक महिला अधिकारी की अगुवाई में जांच को दिखाया गया है, जिस पर पूरी दुनिया की निगाहें टिकी हैं और अपराध की क्रूरता से वह बेहद प्रभावित है.

फिल्म ‘सिद्धार्थ’ और ‘इंडिया इन अ डे’ के निर्देशक मेहता ने कहा कि उन्होंने कंटेट का इस्तेमाल ड्रामा के लिए महज बुरी घटना दिखाने के लिए नहीं बल्कि अन्य बड़े मुद्दों को प्रकाश में लाने के लिए भी किया है.

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.