James Bond Fame Sean Connery dies at 90 : हॉलीवुड के महानतम अभिनेताओं में से एक सीन कोनेरी का शनिवार को निधन हो गया. ब्रिटिश एम्पायर द्वारा सर की उपाधि से नवाजे जा चुके कोनेरी 90 साल के थे. कोनेरी के परिवार ने उनके निधन की पुष्टि की है. Also Read - लड़का या लड़की, किसी से भी रिश्ते में आने को तैयार है ये मशहूर सिंगर, कहा- मुझे बस...

सीन कॉनेरी ने जेम्स बॉन्ड फ्रेंचाइजी की सात फिल्मों में बॉन्ड का किरदार निभाया था. स्कॉटिश मूल के अभिनेता सीन को आस्कर, बाफ्टा और तीन गोल्डन ग्लोब सहित कई पुरस्कार मिले थे. Also Read - प्रियंका चोपड़ा को अपने लिए क्या मानते हैं निक जोनास, बोले- My Love, मैं कितना...

हालांकि निधन होने की वजह को लेकर अभी तक कोई आधिकारिक सूचना साझा नहीं की गई है. लगभग पांच दशक लंबे अपने करियर में कॉनरी ने हॉलीवुड फिल्म जेम्स बॉन्ड के किरदार में अपनी एक गहरी छाप छोड़ी है. बॉन्ड सीरीज की पहली पांच फिल्मों में वह शीर्षक भूमिका में काम कर चुके हैं. Also Read - जेम्स बांड के साथ जलवे बिखेरने वाली इस खूबसूरत एक्ट्रेस का निधन, बिकिनी पहन मचाया था तहलका

साल 1962 में सीरीज की पहली फिल्म ‘डॉक्टर नो’ के साथ वह पहली बार बॉन्ड के किरदार में नजर आए थे. इसके बाद ‘फ्रॉम रशिया विद लव’ (1963), ‘गोल्डफिंगर (1964)’, ‘थंडरबॉल’ (1965), ‘यू ओनली लिव ट्वाइस’ (1967), ‘डायमंड्स आर फॉरेवर’ (1971) और ‘नेवर से नेवर अगेन’ (1983) के साथ उनका यह सिलसिला चलता रहा. अमेरिकन फिल्म इंस्टीट्यूट ने सिनेमा के इतिहास में कॉनरी द्वारा निभाए गए जेम्स बॉन्ड को तीसरे सबसे महान हीरो के तौर पर चुना था.

हालांकि बॉन्ड के अलावा भी हॉलीवुड में अपने करियर में उन्होंने दर्शकों को और भी कई सारी बेहतरीन फिल्में दीं, जिनमें ‘द नेम ऑफ द रोज’ (1986), ‘द अनटचेबल्स’ (1987), ‘इंडियाना जोंस एंड द लास्ट क्रूसेड’ (1989), ‘द हंट फॉर रेड अक्टूबर’ (1990), ‘द रशिया हाऊस’ (1990), ‘राइजिंग सन’ (1993), ‘ड्रैगनहार्ट’ (1996), ‘द रॉक’ (1996), ‘इंट्रैपमेंट’ (1998), ‘फाइंडिंग फॉरेस्टर’ (2000) और ‘द लीग ऑफ एक्स्ट्राऑर्डिनरी जेंटलमैन’ (2003) सहित कई शामिल रही हैं.

ब्रायन डी पाल्मा के निर्देशन में बनी फिल्म ‘द अनटचेबल्स’ में कॉनरी द्वारा निभाए गए जिम मालोन के किरदार के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ सह-कलाकार का ऑस्कर भी मिल चुका है. अपने करियर में वह दो बाफ्टा अवॉर्ड और तीन गोल्डन ग्लोब से सम्मानित हो चुके हैं. साल 2000 में होलीरूड पैलेस में कॉनरी को रानी द्वारा नाइट की उपाधि भी दी गई है.

(इनपुट आईएएनएस)