दिग्गज अभिनेत्री श्रीदेवी की अचानक मौत के बाद पूरा बॉलीवुड शोक में डूबा हुआ है.नेता हो या एक्टर सभी के लिए श्रीदेवी की मौत किसी सदमे से कम नहीं है. उनके साथी एक्टर ऋषि कपूर, श्रीदेवी के निधन से काफी दुखी हैं और गुस्से में भी हैं. श्रीदेवी की मौत के बाद ऋषि कपूर ने कई द्वीट किए हैं. ऋषि कपूर ने श्रीदेवी को श्रद्धांजलि देने के लिए अपना ट्वविटर स्क्रीन काला कर दिया है.Also Read - नीतू कपूर अपने पति Rishi Kapoor की 69वीं जयंती पर हुईं इमोशनल, शेयर किया ऐसा नोट, बोलीं- यकीन है...

Also Read - देश का सर्वश्रेष्ठ सरकारी मीडिया शिक्षण संस्थान बना IIMC, आउटलुक-आइकेयर रैंकिंग में मिला पहला स्थान

ऋषि कपूर ने दुबई से श्रीदेवी के पार्थिव शरीर को मीडिया में बॉडी कहे जाने पर भी नाखुशी जताई है. ऋषि कपूर ने कहा है कि मौत के चंद घंटे बाद ही आपकी पहचान खो जाती है और आप महज ‘बॉडी’ बनकर रह जाते हैं. Also Read - कोरोना काल में पश्चिमी मीडिया का पक्षपातपूर्ण कवरेज, भारत की छवि धूमिल करने का किया प्रयास

सभी टेलिविजन चैनल रिपोर्ट कर रहे हैं कि ‘बॉडी रात में मुंबई लाई जाएगी’ अचानक से आपकी पहचान, आपका व्यक्तित्व खो जाता है और महज एक बॉडी बन जाता है??”

बता दें कि श्रीदेवी का जन्म 13 अगस्त,1963 को तमिलनाडु के एक छोटे से गांव मीनमपट्टी में हुआ था. उनके पिता का नाम अय्यपन और मां का नाम राजेश्वरी है. उनके पिता एक वकील थे. उनकी एक बहन और दो सौतेले भाई हैं. ये भी पढ़ें: दुबई से श्रीदेवी का शव वापस भारत लाने में क्यों लग रहा है इतना वक्त?

बचपन से ही श्रीदेवी को एक्टिंग करने का शौक था. उन्होंने महज चार साल की उम्र में एक तमिल फिल्म में अभिनय किया था. बतौर बाल कलाकार उन्होंने कई दक्षिणी भारतीय में काम किया था. एक अभिनेत्री के रूप में उन्होंने साल 1976 में तमिल फिल्म ‘मुंदरू मुदिची’ में काम किया.