महाराजगंज: एक सामाजिक कार्यकर्ता और एक वकील ने महराजगंज जिले में जिला न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में फिल्म निर्माता महेश भट्ट, मुकेश भट्ट और अभिनेत्री आलिया भट्ट के खिलाफ फिल्म ‘सड़क 2’ के पोस्टर में कैलाश मानसरोवर की छवि का उपयोग अपमानजनक तरीके से कर हिंदुओं की भावनाओं को आहत करने के लिए शिकायत दर्ज की है. न्यायिक मजिस्ट्रेट सौरभ पांडे ने मामले में सुनवाई की अगली तारीख 8 सितंबर तय की है जो कि आईपीसी की धारा 295 ए (जानबूझकर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाना) और 120 बी (आपराधिक साजिश) के तहत दर्ज की गई है. Also Read - Sadak 2 ट्रेलर: फेक गुरुओं ने बर्बाद की आलिया की जिंदगी, दुश्मनों को चुन-चुनकर मारेंगे संजय दत्त

  Also Read - मुंबई पुलिस पर भरोसा नहीं करतीं तनुश्री, बोलीं- बॉलीवुड से भी ज्यादा खराब

View this post on Instagram

  Also Read - Sushant Singh Rajput Case: कहां गए? किसने निकाले सुशांत के खाते से करोड़ों रुपए, तह तक जाएगी बिहार पुलिस

A love story that began 29 yrs ago now journeys towards a new horizon. Sadak2 – The road to love ❤️ Here’s presenting our FIRST TEASER POSTER🌞💃🏻 First day First show, from the comfort of your homes! Watch #Sadak2 on @DisneyPlusHotstarVIP with #DisneyPlusHotstarVIPMultiplex @adityaroykapur @duttsanjay @poojab1972 @maheshfilm #MukeshBhatt @visheshfilms #SuhritaSengupta

A post shared by Alia Bhatt ☀️ (@aliaabhatt) on

याचिकाकर्ता, महाराजगंज जिले के निवासी वकील विनय पांडे ने फिल्म के पोस्टर में कैलाश मानसरोवर की एक तस्वीर के इस्तेमाल पर आपत्ति जताते हुए कहा, “फिल्म ‘सड़क 2’ के पोस्टर में कैलाश पर्वत की एक तस्वीर है जिसे हिंदुओं ने भगवान शंकर का निवास स्थल माना है, लेकिन दुर्भाग्य से फिल्म, निर्माता, निर्देशक और अभिनेत्री के नाम को पर्वत के ऊपर लिखा हुआ दिखाया गया है. उनके नाम और फिल्म के नाम को पवित्र पर्वत की तुलना में अधिक महत्व दिया गया है. पोस्टर से हिंदुओं की भावनाएं आहत होती हैं.”

बता दें कि विशेष फिल्म्स और फॉक्स स्टार स्टूडियो द्वारा निर्मित इस फिल्म में आलिया भट्ट, आदित्य रॉय कपूर, संजय दत्त और पूजा भट्ट मुख्य भूमिकाओं में हैं. यह फिल्म पहले 10 जुलाई को सिनेमाघरों में रिलीज होने वाली थी. लेकिन कोविड-19 महामारी के कारण बंद सिनेमाघरों के खुलने के बारे में अनिश्चितता को देखते हुए इसे डिजिटल मंचों पर रिलीज करने का फैसला किया गया है.