सूरज पंचोली और अथिया शेट्टी स्टारर फिल्म हीरो एक बॉलीवुड रोमेंटिक मसाला मूवी है। इस मूवी में भरपूर एंटरटेनमेंट तो है, पर सलमान खान प्रोडक्शन की ये फिल्म बॉलीवुड लवर्स के लिए ही बनी है। हालांकि मूवी एक्शन से भरपूर है, पर फिर भी मूवी में चीज़िनेस की कमी नहीं है। मूवी की शुरुआत काफी दिलचस्प तरीके से होती है, पर क्लाइमेक्स तक मूवी में इंटरेस्ट कम होने लगता है।

ये भी पढ़ें: सलमान सर के लिए जान भी दे सकता हूँ :सूरज पंचोली

मूवी में कहानी की शुरुआत होती है, एक एक्शन सीन से। जिसमे सूरज पंचोली उर्फ़ सूरज का टशन देखते ही बनता है। सूरज के मामा यानि कि सूर्यकांत पाशा उर्फ़ आदित्य पंचोली एक पत्रकार के खून के इल्ज़ाम में जेल की सलाखों के पीछे दिखाया गया है। पाशा का केस राधा उर्फ़ अथिया के पिता आईजी श्रीकांत माथुर संभाल रहे है। उन्हें जेल की सलाखों के पीछे से छुड़ाने के लिए सूरज राधा को धोके से किडनैप कर लेता है और उसे मुंबई से दूर जम्मू ले जाता है। इसी बीच राधा और सूरज के बीच प्यार हो जाता है। इस पूरी फिल्म में यही दिखाया गया है कि दोनों उनके प्यार को कामयाब करने की कोशिशों के दौरान किन हालातों से गुज़रते हैं और कैसे कामयाब होते हैं।

मूवी में अथिया शेट्टी और सूरज पंचोली की जोड़ी दर्शकों को लुभाने में नाकाम रही है। हालांकि सूरज पंचोली ने सलमान की ही तरह बय्सेप्स पर ज़्यादा ध्यान दिया है, पर फिर भी अपने अभिनय से लोगों को आकर्षित नहीं कर पाए। मूवी में अथिया का अभिनय भी पूरी तरह से मच्योर नहीं लगा और वे अपने अभिनय से दर्शकों के दिल में जगह नहीं बना पाईं।

बेशक मूवी का संगीत बेहद उम्दा है। मूवी का म्युज़िक एल्बम रोमेंटिक गानों से भरपूर है। मूवी का संगीत दिया है सचिन-जिगर, मीट ब्रोज़ और अमाल मालिक ने। इस मूवी के एल्बम में एक खास बात यह है कि इसका टाइटल ट्रैक सलमान खान ने खुद गाया है। मूवी बनी है SKF के बैनर तले और इस मूवी का निर्देशन किया है निखिल अडवानी ने।