बॉलीवुड एक्टर सलमान खान का कहना है कि भारतीय सिनेमा के लिए चीन एक अच्छे बाजार के रूप में उभर कर सामने आया है. सलमान खान फिल्म ‘रेस 3’ के अभिनेता होने के साथ-साथ इसकी कमर्शियल जिम्मेदारी भी निभा रहे हैं. मीडिया से बात करते समय जब उनसे बतौर निर्माता और डिस्ट्रीब्यूटर चीनी बाजार की क्षमता के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, “हमारे सिनेमा के लिए चीन अच्छा बाजार है. हमने वहां ‘बजरंगी भाईजान’ रिलीज की. हम वहां ‘सुलतान’ रिलीज कर रहे हैं और ‘रेस 3’ भी रिलीज करेंगे.” Also Read - सलमान खान ने लूलिया वंतूर के साथ की पनवेल स्थित फार्महाउस की सफाई, देखें फोटोज

उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि हमें थिएटर बढ़ाने की जरूरत है. वर्तमान में हम लगभग 5000 थिएटरों में गुजर कर रहे हैं जबकि चीन ने अपने यहां सिनेमाघरों की संख्या 40,000 से ज्यादा कर ली है. इसलिए मैं सोचता हूं कि जब हमारे यहां सिनेमा स्क्रीन बढ़ जाएंगे तो हम भी ऐसा बिजनेस कर सकेंगे.” ‘दबंग’ स्टार ने कहा, “कम संख्या में सिनेमा स्क्रीन होने के बावजूद हम यहां बेहतर बिजनेस कर रहे हैं. इसलिए, सोचें कि अगले 10-15 सालों में स्क्रीन की संख्या बढ़ाने पर हमें कैसे बेहतरीन परिणाम मिलेंगे.”

एक्शन हीरो सलमान को लगता है कि एक्शन फिल्में बड़े दर्शक वर्ग को पसंद आती हैं, अगर उनमें उच्च भावनात्मक क्षमता हो. उन्होंने कहा, “चाहे प्रेम कहानी हो, रोमांटिक कहानी हो या कोई भावुक फिल्म हो, एक्शन वाली फिल्म सफल रहती है. अगर मैं एक्शन कर रहा हूं तो उसके पीछे के कारण से न्याय करना होगा.” प्रयोगात्मक फिल्म में उनकी रुचि पूछने पर उन्होंने कहा, “मैंने ‘ट्यूबलाइट’ की, यह अब इंटरनेट पर सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली फिल्म है.

असली बात ये है कि यह फिल्म ईद पर रिलीज हुई फिल्म नहीं थी जहां लोग फिल्म देखने सिर्फ मनोरंजन के लिए आते हैं.” उन्होंने कहा, “दर्शक जब त्योहार के उल्लास में होता है, और तब उन्हें ऐसी फिल्म दिखाओ जिसे देखने के बाद वे थिएटर से रोते हुए निकलें, तो वह फिल्म उस समय सफल हो ही नहीं सकती.” आमिर खान की तरह अपनी उम्र से ज्यादा के किरदार करने सवाल पर उन्होंने कहा, “आगामी फिल्म ‘भारत’ में मेरा (किरदार का) सफर 27 साल की उम्र से शुरू होकर 35 और 45 की आयु से होते हुए 65 साल की उम्र पर खत्म होता है.”

15 जून को रिलीज हो रही ‘रेस 3’ में सलमान खान के साथ अनिल कपूर, बॉबी देओल और जैकलिन फर्नाडिस हैं.