नई दिल्ली: हिंदी सिनेमा जगत ने दो दिनों में दो सितारों को खो दिए हैं. बीती रात बॉलीवुड के सदाबहार एक्टर ऋषि कपूर ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया. 67 साल की उम्र में मुंबई में उनका निधन हो गया. इस हादसे ने पूरे देश को भीतर तक शांत कर दिया है. तबियत बिगड़ने के बाद उन्हें मुंबई के एचएन रिलाइंस अस्पताल में भर्ती कराया गया था. Also Read - संजय दत्त ने 15वीं पुण्यतिथि पर पिता सुनील दत्त को ऐसे किया याद, VIRAL हो रहा है ये इमोशनल पोस्ट 

अमिताभ बच्चन ने ट्ववीट कर ऋषि के गुज़र जाने की जानकारी दी थी. इसके बाद पूरी दुनिया ने ट्ववीट कर उन्हें श्रद्धांजलि दी. देश और विदेश के सभी हस्तियों ने इस हादसे पर अपना शोक जताया मगर संजय दत्त ने इस मौके पर बेहद भावुकता से भरी एक चिट्ठी लिखी है. इस पत्र में उन्होंने अपनी ज़िंदगी से ‘चिंटू’ के जाने का दर्द बयां किया है. लोग प्यार से ऋषि को ‘चिंटू’ बुलाते थे. Also Read - अपने शरीर को आराम देना चाहते हैं संजय दत्त, बस कुछ वक्त का है इंतजार फिर डिटेल में बताएंगे

बॉलीवुड के ‘संजू बाबा’ ने ये इमोशनल चिट्ठी ट्विटर पर भी शेयर किया है. संजय ने लिखा,  ‘प्यारे चिंटू, मेरी पूरी जिंदगी और करियर में आप मेरी प्रेरणा रहे हो. आपने मुझे सिखाया कि जिंदगी को पूरी तरह जीना चाहिए और जिंदगी की मुश्किलों का सामना करना सिखाया जब मैं मुश्किल दौर से गुजर रहा था. मुझे आपके साथ कई फिल्मों में काम करने का अवसर मिला, जहां आपने मुझे हर कदम पर गाइड किया’.

संजय ने आगे लिखा, ‘कैंसर के साथ आपने एक लंबी जंग लड़ी है. लेकिन आपने कभी मुझे ये एहसास नहीं होने दिया कि आप दर्द से गुजर रहे हैं.. तब भी जब मैंने आपको न्यूयॉर्क में फोन किया था. उस वक्त भी आप जिंदगी से भरे हुए थे. जब कुछ महीनों पहले मैं आपके घर डिनर पर आपसे मिलने आया था, तभी आप मेरे बारे में ही चिंता कर रहे थे. आपने हमेशा मेरी परवाह की है. आज मेरे लिए सबसे दुखद दिन है. मैंने परिवार के एक सदस्य, एक दोस्त, एक भाई और एक ऐसे इंसान को खो दिया है, जिसने मुझे सिखाया कि कुछ भी हो जाए जिंदगी को पूरी तरह जीना चाहिए’.

बता दें कि संजय दत्त और ऋषि कपूर के बीच काफी गहरा रिश्ता था. दोनों बहुत पहले से एक दूसरे के साथ वक़्त बिताया करते थे. यक़ीनन इस नुक्सान की भरपाई करना नामुमकिन है.