Sanjeev Kumar Death Anniversary what killed legend actor superstition fear or fact of life- बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता संजीव कुमार अपनी संजीदगी भरी अदाकारी से सभी के दिलों पर ऐसी छाप छोड़ देते थे कि कोई भी एक बार उनकी फिल्म देखने के बाद भूल नहीं पाता था. शोले. सीता और गीता. आंधी. अंगूर से 70 और 80 के दशक तक काम करने वाले अभिनेता संजीव कुमार की 6 नवंबर को पुण्यतिथि है. बेहद कम उम्र में संजीव कुमार का निधन हो गया था. Also Read - रिव्यू-अपने भीतर के ‘कसाई’ से रूबरू करवाती कहानी

संजीव कुमार को 2 राष्ट्रीय पुरस्कार से भी नवाजा गया. फिल्म दस्तक और कोशिश के लिए अवॉर्ड दिया गया था. संजीव में खास बात थी कि वे अपनी उम्र से भी ज्यादा उम्र के किरदार बड़ी ही सहजता से निभा लेते थे. संजीव को हमेशा मौत का डर सताता था. वे मरना नहीं चाहते थे. संजीव कुमार को अंदाजा था कि उनकी कम उम्र में मौत हो जाएगी. Also Read - राजकुमार राव और परेश रावल बन बैठे 'शतरंज के खिलाड़ी', और फिर....

Suchitra Sen Sanjeev Kumar

फिल्म ‘आंधी’ के एक दृृश्य में संजीव कुमार और सुचित्रा सेन।

महज 47 साल की उम्र में संजीव कुमार ने आखिरी सांसे लीं. आपको ये जानकर हैरानी होगी संजीव कुमार जिस परिवार से ताल्लुक रखते थे वहां मर्द 50 से ज्यादा जी नहीं पाते थे. इस बात से संजीव कुमार परेशान रहते थे. उन्हें लगता था कि वे भी ज्यादा दिन तक जी नहीं पाएंगे. हालांकि ऐसा हुआ भी. Also Read - अनन्या पांडे का अभी तक देखा था रोमांटिक अंदाज, अब ये है करने की तमन्ना

Sanjeev Kumar Death and affair

Sanjeev Kumar Death and affair

कहा जाता है कि संजीव ने मन में हेमा मालिनी के लिए एक सॉफ्ट कार्नर था. उन्होंने हेमा को प्रपोज भी किया था. लेकिन खबरों के अनुसार उन्होंने मना कर दिया था. संजीव कुमार ने अपनी सारी जिंदगी अकेले गुजारी. वे अपनी जिंदगी से मायूस हो गए थे. कहा ये भी जाता है कि वे डिप्रेशन में रहने लगे थे. इसके बाद 6 नवंबर 1985 को संजीव कुमार इस दुनिया को हमेशा के लिए छोड़ कर चले गए.