अगर हम बॉलीवुड इंडस्ट्री में बेहतरीन खलनायकों का नाम लेंगे तो हर किसी की जुबां पर सबसे पहला नाम अमरीश पुरी का ही आएगा. बॉलीवुड की दुनिया में हर एक एक्टर हीरो बनकर अपनी पहचान बनाता है लेकिन वहीं इसकी दूसरी तरफ पूरी साहब ने विलेन का रोल निभाकर लोगों के दिलों में अपनी जगह बनाई. अमरीश पुरी ने सुपरहिट फिल्म ‘मिस्टर इंडिया’ में गजब निगेटिव रोल निभाया था. उनके बोले हुए डायलॉग आज भी सबकी जुबां पर हैं. हाल ही में चर्चा थी कि इस फिल्म का सीक्वेल बनेगा. ये ना भी हुआ तो इसका अलग वर्जन बनाने की घोषणा प्रड्यूसर-डायरेक्टर अली अब्बास जफर ने कर दी थी. खबर ये भी थी कि फिल्म में खलनायक का रोल शाह रुख खान निभाएंगे. रिपोर्ट्स की माने ने शाहरुख ने इस किरदार को करने से मना कर दिया है. वे कोई भी निगेटिव रोल नहीं करना चाहते हैं. अब उनकी जगह रणवीर सिंह ये रोल कर सकते हैं. ऐसा कहा कहा जा रहा है. Also Read - कोरोना की जंग जीतकर घर लौटीं कनिका कपूर, 14 दिन तक डॉक्टर्स की सलाह मानकर करना होगा ये काम

बता दें, 1987 में बनी फिल्म मि. इंडिया की स्क्रिप्ट सलीम—जावेद ने लिखी थी. शेखर कपूर द्वारा निर्देशित इस फिल्म में प्रमुख भूमिकाओं को अनिल कपूर और श्री देवी ने निभाया था. अमरीश पुरी, अशोक कुमार, सतीश कौशिक, अजीत वाच्छानी और शरत सक्सेना सहायक भूमिका में थे.मोगैम्बो के किरदार को हिंदी सिनेमा के इतिहास में सबसे अच्छे खलनायकों में से एक माना जाता है. Also Read - शाहरुख के करीबी दोस्त और 'चेन्नई एक्सप्रेस' के निर्माता की बेटी कोरोना पॉजिटिव, अस्पताल में भर्ती

Also Read - #9Baje9Minute: पीएम मोदी को मिला बॉलीवुड का साथ, सेलेब्स ने खास अंदाज में जलाए दिये