बॉलीवुड के बादशाह शाहरुख खान(Shah rukh khan) अपने खास रोमांटिक अंदाज से इंडस्ट्री में एक अलग मुकाम हासिल किया है. यह फिल्म ‘बाजीगर'(Baazigar) में खलनायक के रूप में निभाए गए उनके किरदार का असर ही था, जिसने उन्हें प्रसिद्धि और शोहरत दिलाई. अब्बास-मस्तान निर्देशित फिल्म ने सोमवार को 25 साल पूरे कर लिए. इस मौके पर शाहरुख खान ने इंस्टाग्राम पर अपने फैन्स के लिए एक वीडियो शेयर किया.

इस वीडियो में शाहरुख फिल्म के मशहूर डायलोग “कभी-कभी जीतने के लिए कुछ हारना भी पड़ता है..और हार कर जीतने वाले को बाजीगर कहते हैं” को दोहराते नजर आ रहे हैं. वीडियो के साथ शाहरुख ने लिखा, “‘बाजीगर’ के 25 साल. एक ऐसी फिल्म जिसने मेरे करियर को परिभाषित किया और जिंदगीभर के लिए दोस्त दिए.” उन्होंने फिल्म के निर्देशकों और सह अभिनेत्रियों काजोल और शिल्पा शेट्टी का भी आभार जताया, जिन्होंने फिल्म में महत्वपूर्ण भूमिकाऐं निभाई थीं.

इस फिल्म से ही शिल्पा ने बॉलीवुड में डेब्यू किया था. हाल ही में शाहरुख ने राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार नहीं मिलने और उनकी कोई भी फिल्म कोलकाता अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (केआईएफएफ) में नहीं दिखाए जाने पर अफसोस जताया था. उन्होंने कहा कि फिल्म महोत्सवों में या तो उन्हें डांस करने या लोगों के स्वागत में कुछ अच्छे शब्द कहने के लिए बुलाया जाता है, लेकिन बौद्धिक विचार-विमर्श के लिए नहीं बुलाया जाता है.

शाहरुख ने कहा, “मैंने अबतक 70 फिल्में की है, लेकिन मुझे फिल्म महोत्सवों में या तो नाचने या फिर प्रतिनिधिमंडल का स्वागत करने और लोगों के साथ अच्छे से पेश आने के लिए बुलाया जाता है और कुछ भी बौद्धिक काम करने के लिए नहीं बुलाया जाता.

(एजेंसी इनपुट के साथ)