नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में होने वाले ट्रैफिक जाम का अनुभव बॉलीवुड के किंग खान को भी हुआ और बृहस्पतिवार को एक कार्यक्रम में वह देर से पहुंचे. हालांकि कारण बताते हुए शाहरुख खान ने मुस्कुराते हुए कहा ‘‘जैसी भी है, अपनी दिल्ली है.’’ शाहरुख कल शहर के पीवीआर अनुपम में एक कार्यक्रम के सिलसिले में आए थे. तय समय के बाद पहुंचे शाहरुख ने विलंब के लिए माफी मांगी और बताया कि ट्रैफिक जाम इस विलंब की वजह था. उन्होंने कहा कि देर से आने के लिए माफी चाहता हूं. मैं समय पर निकला था लेकिन ट्रैफिक में फंस गया. मैं इसकी शिकायत नहीं कर रहा हूं. यह हमारा शहर है. जैसी भी है, अपनी दिल्ली है.

भारत का पहला मल्टीप्लेक्स और दिल्ली में अपनी अलग पहचान रखने वाला सिनेमा परिसर पीवीआर अनुपम कुछ दिनों के लिए बृहस्पतिवार को बंद कर दिया गया. इस परिसर का पुन:निर्माण एवं साजसज्जा की जानी है. पीवीआर अनुपम 1997 में खुला था और इसकी पहली फिल्म शाहरुख की ‘‘यस बॉस’’ थी. फिल्म ब्लॉकबस्टर साबित हुई थी. शाहरुख ने यह भी कहा कि फिल्मों के टिकट दरों में हो रही वृद्धि की जिम्मेदारी उनके जैसे फिल्मी सितारों की भी बनती है.

उन्होंने कहा कि टिकट की कीमतों में तेजी से हो रही वृद्धि के लिए हम जैसे कुछ सितारे भी जिम्मेदार हैं क्योंकि सप्ताहांत में फिल्मों की रिलीज के दौरान हम टिकट दरें अधिक रखते हैं. फिल्में महंगी हो गई हैं. किंग खान ने यह भी कहा ‘‘मनोरंजन के लिए अलग अलग मंच हैं. लेकिन फिल्म थिएटर दर्शकों को सिनेमा के ‘असली रोमांस’ का जो अहसास कराते हैं, वह कोई दूसरा मंच नहीं करा सकता.’’ देश में और अधिक संख्या में थिएटरों की जरूरत रेखांकित करते हुए शाहरुख ने कहा कि मैं हमेशा कहता हूं कि हम अकेले रो सकते हैं लेकिन अकेले हंस नहीं सकते. जब तक मानवता के बारे में यह बात सच है, तब तक सिनेमा फलता फूलता रहेगा.