Shammi Kapoor Birthday Know Love Story With Geeta Bali: अभिनेता शम्मी कपूर (Shammi Kapoor) हिंदी सिनेमा के उन कलाकारों में से एक रहे थे जो अपनी खास और अलग अदाकारी के लिए जाने जाते हैं कपूर खानदान के मशहूर एक्टरों में शम्मी कपूर (Shammi Kapoor) की अपनी खास जगह है, उन्होंने अपने करियर में कई बड़ी हिट फिल्में दीं. शम्मी कपूर (Shammi Kapoor)  का जन्म बॉलीवुड के कपूर परिवार में 21 अक्टूबर 1931 को हुआ था. ऐसे में आज उनके जन्मदिन पर आइए जानते हैं, आखिर कैसी थी एक्टर की लव स्टोरी.Also Read - वृंदावन पहुंचकर Kangana Ranaut ने किए बांके बिहारी के दर्शन, बच्चे के हाथों से खाया प्रसाद- देखें तस्वीरें

असली नाम था शमशेर राज कपूर
भारत के एल्विस प्रेस्ली नाम से मशहूर शम्मी कपूर (Shammi Kapoor) का जन्म पृथ्वीराज कपूर के घर साल 1931 में हुआ था. शम्मी कपूर (Shammi Kapoor) का असली नाम शमशेर राज कपूर था.  शम्मी (Shammi Kapoor) ने साल 1953 में करियर की शुरुआत फिल्म जीवन ज्योति से की थी औऱ उसके बाद एक से बढ़कर एक बड़ी सुपरहिट फिल्मों का हिस्सा रहें. शम्मी कपूर ने ब्लैक एंड व्हाइट के अलावा कई कलर फिल्मों में काम किया था. शम्मी कपूर (Shammi Kapoor) आखिरी बार अभिनेता रणबीर कपूर की फिल्म रॉकस्टार में नजर आए थे। यह फिल्म साल 2011 में रिलीज हुई थी. Also Read - 'गुम है किसी प्यार में' के विराट-पाखी शादी के बाद हुए रोमांटिक, शेयर कर दी अपनी बेडरूम Photos

मुमताज से हुआ था पहला प्यार
शम्मी कपूर ने भले ही गीता बाली से शादी की हो लेकिन वो पहले मुमताज को अपना दिल दे बैठै थे, जब शम्मी को मुमताज हुआ तो उन्होंने एक्ट्रेस को शादी के लिए पूछा. हालांकि मुमताज तब महज 18 साल की थी, ऐसे में उन्होंने अपना फिल्मी करियर छोड़कर शम्मी से शादी करने के लिए मना कर दिया. Also Read - Bigg Boss 15: वीकेंड के वार में शमिता और करण कुद्रां पर भड़के सलमान, कहा- 'लानत है...मुझे पटक कर दिखाओ'

Mumtaz Reveals Why She Didn't Marry Shammi Kapoor And Lost Out on Mera Naam Joker

गीता बाली से घर वालों की मर्जी के खिलाफ जाकर शादी की
शम्मी कपूर को मुमताज ने मना कर दिया था, लेकिन इसके बाद फिर से उनके जिवन में प्यार आया और इस बार उनका नाम था गीता बाली. 1955 में ‘मिस कोका-कोला’ के सेट पर दोनों मिले और प्यार हो गया. हालांकि गीता उनसे उम्र में बड़ी थी, लेकिन इसके बाद भी शम्मी ने उनसे शादी की और घरवालों को बिना बताए दोनों ने आधी रात को बानगंगा मंदिर पहुंचे और सुबह मंदिर में शादी कर ली.

सिंदूर की जगह लिपस्टिक से गीता बाली की मांग भरी
शादी के दौरान शम्मी कपूर से जब मांग भरने को कहा तो उनके पास सिंदूर नहीं था, ऐसे में शम्मी कपूर ने लिपस्टिक से गीता बाली की मांग भरी. शादी के दस साल बाद 1965 में गीता बाली का निधन हो गया था. दोनों की दो बच्चे- आदित्य राज कपूर और कंचन हैं. गीता बाली के निधन के बाद उन्होंने 1969 में नीला देवी से शादी की.