#MeToo मूवमेंट पर लगातार लोगों के रिएक्शन आ रहे हैं. देश भर में मीटू’ अभियान(#MeToo movement) के तहत महिलाएं अपने साथ हुए यौन उत्पीड़न के खिलाफ आवाज उठा रही हैं. फिल्म इंडस्ट्री से लेकर कॉर्पोरेट घरानों में काम करने वाली महिलाएं अब खुलकर आपबीती लोगों और मीडिया के सामने रख रही हैं. वहीं बॉलीवुड के तमाम दिग्गज और बड़ी शख्सियत इस बारे में अपनी राय रख रहे हैं. वहीं अब अभिनेता शेखर सुमन ने भी इस विषय पर कहा कि जब मीटू मूवमेंट के तहत कंगना रनौत के एक्स बॉयफ्रेंड अध्ययन सुमन ने उन्हीं के खिलाफ टि्वटर पर आरोप लगाए थे और अपनी आपबीती सुनाई थी. तब सबने कहा था कि वो ये सब पब्लिसिटी के लिए कर रहे हैं. पिंकविला की खबर के मुताबिक, शेखर ने ट्वीट करके कहा कि अगर उस वक्त मेरा बेटा अपनी कहानी बयां कर रहा था तो लोगों ने उसे  पब्लिसिटी स्टंट बताया तो इसका मतलब ये हुआ कि अब जब सारी महिलाएं अपनी स्टोरी मीटू स्टोरी शेयर कर रही हैं तो क्या वो भी पब्लिसिटी के लिए है. Also Read - लॉकडाउन से बोरिंग हो गया है इस एक्टर का लाइफ, बताया कैसे कट रहा है वक्त

Also Read - मायरा मिश्रा ने बंद कमरे में अध्ययन के साथ किया जबरदस्त रोमांस, फैंस बोले- थोड़ा तो डिस्टेंस रखो

शेखर सुमन ने ट्वीट किया, “क्या #MeToo आंदोलन मर चुका है? आरोप प्रत्यारोप का दौर खत्म? बहस खत्म हो गई है? सुर्खियां चली गईं? महिला की क्रांति खत्म हो गई? चार दिन की चांदनी फिर अंधेरी रात.” Also Read - Valentines Day 2020: प्यार की खुमारी में टॉपलेस हुईं ये एक्ट्रेस, लोगों ने कहा- हॉट गुलाब

बता दें इससे पहले अध्ययन ने लिखा था- बहुत सारे लोग अब मीटू के जरिए अपनी आप बीती सुना रहे हैं. माफी चाहता हूं लेकिन जब मैंने अपनी आप बीती सुनाई थी तब लोगों ने मुझे बहुत बुरा-भला कहा था. यही नहीं मेरे मम्मी-पापा को भी अश्वलील कमेंट किए गए थे. वी पर अश्लील कमेंट किए गए. हर किसी को अपनी बात कहने का अधिकार है. जिन्होंने मेरा समर्थन किया उन्हें दिल से शुक्रिया.

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.