मुंबई: देशभर में लगातार एक के बाद एक महिलाओं के खिलाफ हो रही यौन हिंसा और हत्याओं से सभी बेहद परेशान हैं, ऐसे में बॉलीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी (shilpa shetty) ने भी इंस्टाग्राम के माध्यम से इस मामले में अपना गुस्सा जाहिर किया है. शिल्पा ने कहा है कि बेटी बचाओ को महज एक अभियान तक सीमित नहीं रखा जा सकता है बल्कि इसमें अमल भी लाने की आवश्यकता है. इंस्टाग्राम पर शिल्पा ने कई रिपोर्टों की एक झलकियां शेयर की हैं जिनमें से एक खबर उन्नाव पीड़िता के बारे में है जिसे दुष्कर्म के आरोपियों ने बड़ी ही निर्ममता के साथ आग के हवाले कर दिया और दूसरी खबर पश्चिम बंगाल के मालदा में एक महिला के कथित दुष्कर्म और हत्या के बारे में है. इन खबरों को साझा करते हुए अभिनेत्री ने हमारे देश में महिलाओं की असुरक्षित स्थिति के बारे में बात की जहां दुष्कर्म पीड़िता के साथ उदासीन रवैया अपनाया जाता है और अपराधी खुलेआम आराम से घूमते हैं.

 

View this post on Instagram

 

The position and dignity of women in our country is in dire straits… it’s been so for a while now. Stepping out every day has become an ordeal for most, one that is unavoidable. As a woman, I can’t even express how disgusting it is to see the apathy towards rape victims, survivors, and their families. It is highly disappointing to regularly read the news stating that an offender/culprit has been granted bail and is out… What for? To be given another chance to commit a more heinous crime? Reading about girls of all ages being abused and the brutality involved in each case makes my skin crawl. I’m a mother to a son, but I don’t think I can bring myself close to imagining the fear that mothers of daughters feel every day. #BetiBachao can’t just be relegated to a campaign. Intent isn’t enough if it can’t be put into action. I urge our authorities to enforce stricter laws that will not only deter future perpetrators, but also severely punish the offenders undergoing trials. Also, expediting these proceedings is the need of the hour. Justice delayed is justice denied! Jai Hind! @narendramodi . . . #EndRape #EndSexualViolence #NoTolerance #punishment #NoMoreRape #EndRapeCulture #NoToAbuse #stop

A post shared by Shilpa Shetty Kundra (@theshilpashetty) on

शिल्पा ने लिखा, “हमारे देश में महिलाओं की स्थिति और उनकी गरिमा बेहद निराशाजनक है..पिछले कुछ समय से स्थिति ऐसी ही बन गई है. अधिकांश के लिए प्रतिदिन बाहर निकालना काफी मुश्किल हो गया, यह कुछ ऐसा है जो अपरिहार्य है. एक महिला के तौर पर मैं शायद यह बयां भी नहीं कर सकती कि दुष्कर्म पीड़िताओं और उनके परिवारों के प्रति उदासीन व निर्मम रवैये को अपनाते हुए देखना भी कितना घृणित और परेशान कर देने वाला है. हर रोज ऐसी खबरों को पढ़ना जिनमें लिखा हुआ होता है कि आरोपी को जमानत दे दी गई है/वह बाहर है..ऐसा क्यों? किसलिए? ताकि उसे एक और जघन्य अपराध करने का दूसरा मौका मिले? हर उम्र की महिलाओं के साथ हिंसा और उस कुकृत्य में जिस तरह की बर्बरता को शामिल किया जाता है उस बारे में पढ़कर मेरे रोंगटे खड़े हो जाते हैं. मैं एक बेटे की मां हूं, लेकिन मुझे नहीं लगता कि मैं उस दर्द को उस हद तक महसूस कर पाऊंगी जिनका एहसास हर दिन बेटियों की मां करती हैं.”

रजनीकांत की फिल्म दरबार का हुआ ऑडियो लॉन्च, सुनील शेट्टी कर रहें हैं तमिल फिल्म में वापसी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपने पोस्ट में टैग करते हुए अभिनेत्री ने आगे लिखा, “हैशटैगबेटीबचाओ को मात्र एक अभियान तक सीमित नहीं रखा जा सकता. इसका आशय पर्याप्त नहीं है अगर इसे में ही नहीं लाया जा सकता. मैं अपने प्रशासन से सख्त कानून लागू करने का आग्रह करती हूं जो न केवल भविष्य के अपराधियों पर रोक लगाएगी बल्कि ट्रायल से गुजर रहे अपराधियों को भी सजा देगी और साथ ही इन कार्यवाहियों को जल्द से जल्द निपटाने की आवश्यकता है क्योंकि न्याय में देरी न्याय न होने के बराबर है. जय हिंद.”