मुंबई. मायानगरी मुंबई में इस महीने होने वाले MAMI (Mumbai Academy of Moving Image) फिल्म फेस्टिवल, देश में मुख्यधारा और इससे अलग हटकर फिल्म बनाने वालों के लिए बेहतरीन मंच माना जाता है. 12 से 18 अक्टूबर
तक चलने वाले इस फेस्टिवल में फिक्शन, नॉन-फिक्शन समेत कई कैटेगरी की फिल्मों का प्रदर्शन किया जाएगा. देश के प्रतिष्ठित फिल्म समारोहों में से एक MAMI फिल्म फेस्टिवल में इस साल शॉर्ट फिल्म कैटेगरी के तहत ‘डाइमेंशंस मुंबई’ (Dimensions Mumbai) सेक्शन में फिल्म ‘पवन कुमार की सुहागरात’ (PAWAN KUMAR KI SUHAGRAAT) दिखाई जाएगी. निर्देशक कुशाग्र शर्मा की बनाई यह फिल्म महज 5 मिनट की है. फिल्म में संयुक्त परिवार में एक शादी के बाद दूल्हा और दुल्हन के मिलन की मुश्किलों को बड़ी खूबसूरती से उभारा गया है. सामाजिक परंपराओं, मान-मर्यादा और रीति-रिवाजों से बंधे एक परिवार में दूल्हा-दुल्हन शादी के बाद भी कैसे एक-दूसरे से नहीं मिल पाते हैं, यह फिल्म इसी विषय को ध्यान में रखकर बनाई गई है.

मुंबई के रिक्शावाले की कहानी
‘पवन कुमार की सुहागरात’ के निर्देशक कुशाग्र शर्मा पिछले 4 वर्षों से फिल्म निर्माण के क्षेत्र में काम कर रहे हैं. सामाजिक सरोकार और गंभीर संदेश देने वाली फिल्मों के प्रति रुझान रखने वाले कुशाग्र चाहते हैं कि उनकी हर फिल्म विशाल जनसमुदाय तक पहुंचे. फिल्म का संदेश समाज के बड़े वर्ग को झकझोरे. अपनी नई फिल्म ‘पवन कुमार की सुहागरात’ में भी कुशाग्र ने यही कोशिश की है. यह फिल्म मुंबई के चाल में रहने वाले एक रिक्शावाला पवन की कहानी है. सामाजिक रूढ़ियों से जकड़ा पवन का परिवार चाहता है कि वह किसी शहरी के बजाए गांव की लड़की से शादी करे. पवन अपने घरवालों की बात मानकर गांव की लड़की से शादी कर लेता है. लेकिन घर में आए रिश्तेदारों और परिजनों की भीड़ के कारण स्थितियां कुछ ऐसी बन जाती हैं कि शादी के एक हफ्ते बाद भी पवन और उसकी पत्नी सुहागरात नहीं मना पाते हैं. कुशाग्र शर्मा की यह फिल्म, पवन कुमार की मजबूरियों के जरिए सामाजिक रूढ़ियों को शानदार तरीके से पेश करती है.

पवन कुमार के रोल में हैं रिशभ कुश
फिल्म ‘पवन कुमार की सुहागरात’ में मुख्य भूमिका प्रतिभाशाली कलाकार रिशभ कुश ने निभाई है. अपनी फिल्म के MAMI फेस्टिवल में सेलेक्ट होने से खुश रिशभ ने इंस्टाग्राम पर ‘पवन कुमार की सुहागरात’ का पोस्टर शेयर किया है. इसमें उन्होंने फिल्म के इस प्रतिष्ठित समारोह में शामिल होने की जानकारी देते हुए लिखा है कि जल्द ही ‘पवन कुमार की सुहागरात’ की स्क्रीनिंग डेट का अनाउंस किया जाएगा. अनोखे विषय और प्रस्तुति को देखते हुए लोगों को उम्मीद है कि MAMI फेस्टिवल में यह शॉर्ट हिन्दी फिल्म ‘पवन कुमार की सुहागरात’, सिनेमा के जानकारों को जरूर पसंद आएगी.