परमव्रत चट्टोपाध्याय निर्देशित फिल्म ‘सोनार पहाड़’ को बनाना आसान नहीं था. इस फिल्म में 70 साल की एक महिला और सात साल का एक बच्चा मुख्य किरदार में हैं. परमव्रत को भी इससे काफी उम्मीदें हैं और वह चाहते हैं दर्शक देखते-देखते इस फिल्म में खो जाएं. एक किरदार को जहां दिग्गज अदाकारा तनुजा निभा रही हैं, वहीं दूसरे किरदार को ऐसा बाल कलाकार निभा रहा है, जिसने इससे पहले कभी कैमरे का सामना नहीं किया. बांग्ला अभिनेता-निर्देशक खुशकिस्मत रहे कि दोनों कलाकारों को न सिर्फ पटकथा पसंद आई, बल्कि एक-दूसरे के साथ काम करना भी खूब भाया. Also Read - काजोल की मां तनुजा जूझ रही हैं इस बीमारी से, हुई सर्जरी

फिल्म ‘परी’ के अभिनेता ने बताया, “शूटिंग के पहले यह जानना महत्वपूर्ण था कि दोनों मुख्य कलाकार एक-दूसरे के साथ सहज हैं या नहीं.” उन्होंने बताया, “मैं बच्चे सृजित बंद्योपाध्याय को तनुजाजी से मिलाने उस होटल ले गया जहां वह रुकी हुई थीं. वह उनके साथ उसी तरह से सहज था, जैसे कि यह बच्चा उनकी प्रसिद्धि से अनजान हो.” Also Read - bollywood | dilwale | sharukh khan | tanuja | selfie | तनुजा के साथ शाहरुख ने ली सेल्फी |

Also Read - List of Bollywood actresses who smoke in real life

परमव्रत ने बताया कि दोनों जल्द ही घुलमिल गए. अभिनेत्री जानना चाहती थीं कि उन्हें कब से शूटिंग शुरू करनी है. परमव्रत ने बताया कि बाल कलाकार की खोज उन्होंने काफी पहले शुरू कर दी थी. सैकड़ों बच्चों का ऑडिशन लिया, लेकिन आखिरकार उनकी तलाश ‘नेहरू चिल्ड्रेंस म्यूजियम’ में जाकर पूरी हुई. वहां उन्हें सृजित मिला, जो उनके मन को भा गया. लेकिन वह पांच साल का था, इसलिए उन्होंने दूसरे बच्चे को चुन लिया, फिर शूटिंग शुरू होने में में दो साल की देरी के चलते आखिरकार सृजित ही इस फिल्म का हिस्सा बना.

परमव्रत ने बताया कि 70 वर्षीय महिला का किरदार निभाने को लेकर पहले उन्होंने अपर्णा सेन से बात की थी, लेकिन जब वह पटकथा लेकर तनुजा से मिलने मुंबई पहुंचे तो अभिनेत्री को पटकथा बेहद पसंद आई और वह फौरन काम करने के लिए तैयार हो गईं.

‘सोनार पहाड़’ यानी सोने का पहाड़. यह फिल्म संयुक्त परिवार में हो रहे बिखराव पर सवाल उठाती है. परमव्रत ने कहा, “हमें अपने आसपास मौजूद लोगों की अहमयित को समझने की जरूरत है. मुझे लगता है कि ‘सोनार पहाड़’ इस बात को अच्छी तरह उठाती है.”

परमव्रत चाहते हैं कि दर्शक फिल्म की कहानी में पूरी तरह से खो जाएं. उन्होंने कहा, “दर्शकों को ‘सोनार पहर ‘ की कहानी में पूरी तरह से खो जाने दीजिए. फिल्म इंटरनेट पर लंबे समय तक बनी रहेगी. मैं अपनी अगली फिल्म के आने के पहले एक उचित अंतराल चाहता हूं, क्योंकि मेरी अगली फिल्म ‘सोनार पाहाड़’ से उतनी ही अलग है, जितनी हो सकती है.”

(इनपुट आईएनएस)

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.