श्रीदेवी के निधन से भारतीय सिनेमा को बहुत बड़ा धक्का पहुंचा है. इसमें कोई संदेह नहीं है कि हिंदी सिनेमा में उनकी इस कमी को कोई पूरा नहीं कर पाएगा. हर कोई श्रीदेवी के आखिरी दर्शन करने के लिए उनके पार्थिव शरीर का दुबई से आने का इंतजार कर रहा है. अभिनेत्री श्रीदेवी का सोमवार को मुंबई में अंतिम संस्कार किया जाना है. उनके अंतिम संस्कार में बॉलीवुड की कई बड़ी हस्तियों समेत तमिल और तेलुगु फिल्मों के सुपरस्टार भी शामिल हो सकते हैं. बता दें, श्रीदेवी शनिवार रात तकरीबन 11 बजे दुनिया छोड़कर चली गईं. 54 साल की श्रीदेवी का निधन दुबई में कार्डिएक अरेस्ट की वजह से गया. श्रीदेवी अपने भतीजे और एक्टर मोहित मारवाह की शादी में शामिल होने के लिए दुबई में थीं.

Sridevi-20
जानकारी के मुताबिक श्रीदेवी का अंतिम संस्कार मुंबई के पवन हंस शवदाह गृह में किया जाएगा. अभिनेत्री के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए न केवल बॉलीवुड बल्कि हैं दक्षिण भारतीय फिल्मों के भी कई बड़े सितारे मुंबई पंहुच गए हैं. रजनीकांत के अलावा कमल हासन, चिंरजीवी और नागार्जुन के भी अंतिम संस्कार में शामिल होने की उम्मीद जताई जा रही है.

फोटो श्रीदेवी के इंस्टाग्राम से साभार

फोटो श्रीदेवी के इंस्टाग्राम से साभार

विदेश से किसी शव को भारत लाने में कितना वक्त लगता है?

विदेश में अगर किसी की मौत होती है और शव को वापस भारत लाना होता है तो इसके लिए कई डॉक्युमेंट्स चाहिए होते हैं. भारत की फॉरेन मिनिस्ट्री ने अपनी वेबसाइट पर इससे संबंधित सभी जानकारियां दे रखी हैं. इसमें बताया गया है कि शव वापसी के लिए मेडिकल रिपोर्ट की जरूरत होती है. इसके साथ ही मृत्यु प्रमाणपत्र भी चाहिए होता है. यह स्थानीय अस्पताल ही जारी करता है.

sridevi

देश के हिसाब से बदलते हैं नियम

देश के हिसाब से ये नियम बदल सकते हैं लेकिन ज्यादातर मामले में नियम इसी प्रकार के होते हैं. हालांकि प्राकृतिक मौत के मामले में शव को वापस लाने में अधिक देर नहीं लगती है लेकिन अप्राकृतिक मौत के मामले में यह प्रक्रिया लंबी चलती है. ऐसा इसीलिए होता है क्योंकि लोकल पुलिस इसकी गहराई से जांच करती है और शव से जुड़े सुबूत एकत्रित करती है. शव को वापस लाने की प्रक्रिया के दौरान इंडियन एंबेसी के कांसुलेट मृतक के परिजनों के संपर्क में रहते हैं.

श्रीदेवी अपने समय में सबसे महंगी फीस लेने वाली अभिनेत्री थीं

उस वक्त क्या हुआ था?

अखबार के अनुसार- शनिवार रात बोनी कपूर मुंबई से वापस जुमैरा एमीरैट्स टॉवर्स होटल लौटे, वो श्रीदेवी को सरप्राइज डिनर पर ले जाना चाहते थे. बोनी कपूर ने होटल के कमरे में श्रीदेवी को उठाया और उनसे करीब 15 मिनट तक बात की. बोनी ने अपनी पत्नी को डिनर के लिए न्योता दिया. श्रीदेवी तैयार होने के लिए वॉशरूम में गईं. जब 15 मिनट तक वो बाथरूम से बाहर नहीं निकलीं तो बोनी कपूर ने दरवाजा खटखटाया और जब श्रीदेवी ने दरवाजा नहीं खोला तो बोनी कपूर ने तेज धक्का देकर दरवाजा खोला, जहां श्रीदेवी बाथटब में बेसुध होकर गिरी पड़ी थीं.