विश्वास नहीं होता की श्रीदेवी अब नहीं रहीं. दिल को ये बात समझाने में काफी वक्त लगेगा. श्रीदेवी एक ऐसी अभिनेत्री थीं जिन्होंने अपने घर-परिवार संभालने के लिए अपने करियर से समझौता कर लिया. फिल्म ‘जुदाई’ के बाद श्रीदेवी ने फिल्मों से दूरियां बना ली थी. कहा जाता है कि शादी से पहले वो प्रेग्नेंट थी. लेकिन बड़ी बेटी जहान्वी कपूर के जन्म के बाद से उन्होंने फिल्मों से दूरी बना ली. और टेलीविजन के लिए काम करने लगीं. छोटी बेटी ख़ुशी कपूर के आने के बाद उन्होंने एक बार फिल्मों और टेलीविज़न दोनों से दूर रहने का फैसला कर लिया. साल 2015 में श्रीदेवी ने अपने सोशल मीडिया पर एक तस्वीर को शेयर की थी जिसमें उनके हाथों में मेहंदी लगी थी और मेहंदी के उस डिजाइन में श्रीदेवी ने अपने पति बोनी और दोनों बच्चियों जहान्वी और ख़ुशी कपूर के नाम लिखवाए थे. इससे पता चलता है कि वे अपने परिवार के कितने करीब थीं. Also Read - Lehenga Designs 2020: वेडिंग सीजन में दिखना चाहती हैं परफेक्ट तो अपनाएं जान्हवी कपूर के ये 10 लहंगा लुक

श्रीदेवी ने एक इंटरव्यू में भी कहा था वे अपनी बड़ी बेटी जहान्वी के काफी करीब हैं. जहान्वी में उनकी जान बसती है. वहीं उनकी लाडली छोटी बेटी खुशी अपने पिता बोनी कपूर के काफी करीब हैं. श्रीदेवी अपनी बड़ी बेटी के करियर को लेकर काफी चिंतित रहती थी. इतना ही नहीं वो अपनी बेटियों को फिल्म इंडस्ट्री का हिस्सा नहीं बनाना चाहती थी लेकिन जब बड़ी बेटी जहान्वी ने उनसे एक्ट्रेस बनने की इच्छा जताई तो वो उन्हें मना नहीं कर पायी.

sridevi-and-boney

बॉलीवुड की दिग्गज अभिनेत्री श्रीदेवी शनिवार रात तकरीबन 11 बजे दुनिया छोड़कर चली गईं. 54 साल की श्रीदेवी का निधन दुबई में कार्डियक अरेस्ट की वजह से गया. श्रीदेवी अपने भतीजे और एक्टर मोहित मारवाह की शादी में शामिल होने के लिए दुबई में थीं. दिग्गज अभिनेत्री श्रीदेवी अपने पति बोनी कपूर के साथ डिनर पर बाहर जाने के लिए दुबई के एक होटल के कमरे में तैयार हो रही थीं और उसके कुछ ही समय बाद उन्हें दिल का दौरा पड़ा जिससे उनका अचानक निधन हो गया.