State Of Siege-26/11: मुंबई ताज आतंकी हमले ने पूरी दुनिया को हिला दिया. इस घटना पर कई फिल्में भी बनी लेकिन उन फिल्मों को उतनी तारीफ नहीं मिली जितनी मिलनी चाहिए थी. लेकिन ZEE5 के लैटेस्ट शो स्टेट ऑफ सीज: 26/11 (State Of Siege: 26/11) को दर्शकों और क्रिटिक्स की तरफ से काफी प्रशंसा मिली है. लंबे इंतजार के बाद इस वेब सीरीज को 20 मार्च को रिलीज कर दिया गया. वहीं अगर IMDB की बात करें तो इस सीरीज को यहां 10 में से 9.7 की रेटिंग मिली है जोकि वाकई जबरदस्त रेटिंग हैं. इस फिल्म में मुंबई हमले को कमांडोज् के नजरिये से दिखाया गया है. इस शो की सबसे खास बात यह है कि इस शो में निभाए गए सभी किरदार वास्तविक हैं, जिन्होंने मुंबई को आतंकवादी हमले से बचाया था. इस शो के लिए अभिनेताओं को शारीरिक परीक्षण से भी गुजरना पड़ा. इस शो में मुख्य किरदार में अर्जन बाजवा, अर्जुन बिजलानी, सिड मक्कर, विवेक दहिया, तारा अलीशा हैं. Also Read - 7 दशक पहले मुंबई ने देखी थी कुछ ऐसी ही तबाही..... आज भी लोगों को याद है वो मंजर

यह वेबसीरीज संदीप उन्नीथन की किताब ब्लैक टोरनेडो: द थ्री सीज ऑफ मुंबई 26/11 पर आधारित है. स्टेट ऑफ़ सीज 26/11 के कुल आठ एपिसोड्स हैं. इस एपिसोड्स में दिखाया गया है कि आखिर कैसे पाकिस्तानी हमलावर भारत में घुसकर अंधाधुंध फायरिंग कर लोगों को मौत के घाट उतार देता है. इसके बाद फिर कैसे भारतीय सेना के कमांडो इन आतंकवादियों का सफाया करते हैं. इस सीरीज की सबसे खास बात यह है कि इसमें इस आतंकवादी हमले के विभिन्न पहलुओं पर ध्यान दिया गया है. यही नहीं इस सीरीज में एनएसजी कमांडोज् के लेंस से आतंकवादी हमले को दिखाया गया है. इसे देखने पर ऐसा प्रतीत होता है मानों आपके सामने सभी घटनाएं घट रही हैं. Also Read - पोल डांस का अभ्यास करते वक्त चोटिल हुईं बिग बॉस फेम मंदाना करीमी, इनके हॉटनेस के हैं खूब चर्चे 

गौरतलब है कि आतंकवादियों ने 5 अलग अलग जगहों को अपना निशाना बनाया था. छत्रपति शिवाजी टर्मिनस, लियोपोल्ड कैफे, नरीमन हाउस, साथ ही ओबराय-ट्रिडेंट और ताज महल पैलेस को आतंकवादियों ने निशाना बनाया था. हालांकि सबसे ज्यादा जान माल का नुकसान छत्रपति शिवाजी टर्मिनस और ताज महल पैलेस में देखने को मिला. इस वेबसीरीज में कुछ रियल लोकेशन्स को भी शामिल किया है. पहली बार मुंबई में घुसने के बाद आतंकवादियों ने जिस जगह को निशाना बनाया था, इस फिल्म में उस दृश्य को भी दिखाया गया है. Also Read - CBSE बोर्ड के छात्रों के लिए दिशानिर्देश जारी, नजदीकी विद्यालयों में जमा कराएं रिपोर्ट