दिवंगत अभिनेता सुनील दत्त की आज 15वीं पुण्यतिथि है. इस मौके पर उनका एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें सुनील दत्त अपनी पत्नी..प्रेमिका और एक्ट्रेस नरगिस दत्त के बारे में बात करते हुए इमोशनल हो गए. अभिनेता ने बताया कि उनकी जिंदगी को बेहतर बनाने में महिलाओं का काफी योगदान है. मैं खुशनसीब हूं जो मुझे नरगिस मिली. Also Read - Coronavirus in MP Update: मध्य प्रदेश में जारी कोरोना का कहर, 16 हजार से अधिक संक्रमित, 629 की मौत

मदर इंडिया की शूटिंग के दौरान नरगिस को मौत के मुंह निकाल कर लाने वाले दत्त साहब को वो दिन भी देखना पड़ा जब उनकी पत्नी कैंसर से होने वाली भयंकर पीड़ा से होकर गुज़र रही थीं. वो दिन भी देखना पड़ा जब डॉक्टरों से भी नरगिस का कराहना देखा नहीं गया और उन्होंने एक्ट्रेस को मौत के मुंह में धकेलने वाली सलाह तक दे डाली. Also Read - पूर्वांचल का बागी नेता Chandra Shekhar जिसने कभी इंदिरा गांधी तो कभी राजीव को नकारा, जानें युवा तुर्क के पीएम की कुर्सी तक पहुंचने की कहानी

नरगिस को जब कैंसर जैसी लाइलाज बीमारी के लिए कीमोथेरेपी दी जाती. तब उन्हें बहुत दर्द होता था. इतना की वो कराह उठती. रोने लगती. डॉक्टरों से भी ये देखा नहीं जाता था. उन्होंने सुनील दत्त से कहा कि वे नरगिस का लाइफ सपोर्ट सिस्टम ऑफ कर दें. ताकि नरगिस को इस पीड़ा से हमेशा के लिए मुक्ति मिल जाए. लेकिन सुनील दत्त ने ऐसा करने से साफ तौर पर इनकार कर दिया. सुनील, नरगिस को बेहद प्यार करते थे. Also Read - Coronavirus In Bihar Update: कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर हुई 12,525, इन जिलों में मिले सैकड़ों संक्रमित

वे आखिर क्षण तक उनके साथ जीना चाहते थे. इससे डॉक्टरों की मेहनत कहें या फिर सुनील दत्त की मोहब्बत. कुछ दिनों बाद नरगिस कोमा से बाहर आ गईं. ये एक तरह से चमत्कार ही था. उनकी हालत में सुधार भी होने लगा. लेकिन वे ज्यादा दिन तक जिंदा न रह सकीं और 3 मई 1981 को उनकी मृत्यु हो गई. इस घटना के बाद सुनील दत्त बिल्कुल अकेले हो गए. 25 मई, 2005 को दिल का दौरा पड़ने से उनका  मुंबई में निधन हो गया था. उनकी कई यादगार फिल्मों में ‘हमराज’, ‘रेशमा और शेरा’, ‘गुमराह’, ‘मेरा साया’, ‘मदर इंडिया, ‘व़क्त’, ‘पड़ोसन’ और ‘साधना’ जैसी फिल्में शामिल हैं.