मुंबई की एक अदालत ने शुक्रवार को ड्रग मामले में एक कथित ड्रग पेडलर अब्दुल बासित परिहार को 9 सितंबर तक के लिए नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) की हिरासत में भेज दिया. इससे एक दिन पहले अदालत ने एक अन्य अरोपी जैद विलात्रा को 9 सितंबर तक के लिए एनसीबी हिरासत में भेजा था. Also Read - सुशांत राजपूत की बेवफाई से तंग आकर सारा अली खान ने तोड़ लिया था रिश्ता, कहा- जब साथ थे तब इस हद तक...

ड्रग्स की सप्लाई के संबंध में विलात्रा द्वारा किए गए खुलासे के बाद और पूछताछ के बाद परिहार को गुरुवार को हिरासत में लिया गया था. Also Read - दीपिका पादुकोण के साथ कर चुके हैं काम, ड्रग्स केस में A का नाम, लोग लगा रहे हैं अक्षय कुमार का अनुमान

सुशांत सिंह राजपूत की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती और उनकी पूर्व मैनेजर श्रुति मोदी, दिवंगत अभिनेता के हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा और उनके फ्लैटमेट सिद्धार्थ पिठानी के बीच व्हाट्सएप पर हुई बातचीत सामने आने के बाद प्रवर्तन निदेशालय के अनुरोध पर एनसीबी ने 26 अगस्त को मामला दर्ज किया था, जिसके बाद ये गिरफ्तारियां हुई हैं. Also Read - 'छैल छबीली' बनकर नाचीं भोजपुरी एक्ट्रेस रानी चटर्जी, जोरदार ठुमके और ठुड्डी पर काले तिल ने महफिल लूट ली

मामला दर्ज करने के बाद, 27-28 अगस्त की आधी रात को एनसीबी ने मुंबई में तलाशी ली और अब्बास लखानी और करण अरोड़ा को गिरफ्तार किया गया और उनके पास से ‘बड’ (क्यूरेटेड मारिजुआना) बरामद किया गया.

मामले में शामिल व्यक्तियों के तथाकथित सोशल मीडिया संदेश में कुछ जगहों पर ‘बड’ का जिक्र है.एक अधिकारी ने कहा कि नेटवर्क के बारे में विस्तार से पता करने और जांच में विलात्रा के साथ लखानी के संबंध सामने आए हैं.

अधिकारी ने आगे कहा कि विलात्रा ने यह भी खुलासा किया कि वह ड्रग पेडलिंग के धंधे में, खासकर बड, के जरिए अच्छी-खासी रकम कमाता था.

अधिकारी ने कहा, “विलात्रा से पूछताछ के आधार पर, अब्दुल बासित परिहार को जांच के दायरे में लाया गया. यह पता चला था कि ईडी द्वारा पेश किए गए विवरण के आधार पर प्रारंभिक जांच में पूर्व आरोपी व्यक्तियों के साथ परिहार के संबंध पाए गए थे.”

एनसीबी सूत्र ने कहा कि परिहार का संबंध सैमुअल मिरांडा से था, जो रिया चक्रवर्ती का करीबी सहयोगी भी था. मिरांडा पर रिया के भाई शोविक के निर्देश पर ड्रग्स खरीदने का आरोप है.

इससे पहले शुक्रवार सुबह एनसीबी ने शोविक और मिरांडा के घर की तलाशी ली और उन्हें अपने कार्यालय में पूछताछ के लिए ले गई. एनसीबी ने शोविक का एक लैपटॉप और डायरी भी जब्त की है.

एनसीबी सूत्र ने कहा कि यह मामले में नामजद अन्य लोगों को जल्द ही पूछताछ के लिए बुलाएगी.

एनसीबी ने रिया, उनके भाई शोविक, टैलेंट मैनेजर जया साहा, सुशांत की को-मैनेजर श्रुति मोदी और गोवा के होटल व्यवसायी गौरव आर्य के खिलाफ ‘नारकोटिक ड्रग्स एंड साइकोट्रॉपिक सब्सटैंस एक्ट’ की धारा 20 (बी) 28, 29 के तहत मामला दर्ज किया है.