Sushant Singh Rajput Case Latest Updates: सुशांत सिंह राजपूत मौत की गुत्थी अब तक नहीं सुलझ सकी है. अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) के डॉक्टरों के पैनल ने CBI को सौंपी अपनी रिपोर्ट में कहा कि सुशांत सिंह राजपूत की हत्या नहीं हुई थी, बल्कि यह आत्महत्या का मामला है. AIIMS की रिपोर्ट के बाद मुंबई पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह ने कहा कि मुंबई पुलिस अपनी जांच के नतीजों पर कायम है. उन्होंने कहा कि कुछ लोगों ने अपने ‘निजी स्वार्थों’ के चलते जांच के बारे में बिना कुछ जाने-समझे मुंबई पुलिस को निशाना बनाया.Also Read - Mumbai: ईद-ए-मिलाद पर सभी जुलूस प्रतिबंधित, सिर्फ दो जुलूस को 5-5 ट्रकों के साथ निकालने की अनमुति, देखें गाइडलाइंस

परमबीर सिंह ने कहा कि पुलिस की जांच पेशेवर थी और पोस्टमॉर्टम करने वाले शहर के कूपर अस्पताल के चिकित्सकों ने भी अपना काम बखूबी किया. पुलिस आयुक्त ने कहा, ‘हम सभी एम्स के इन निष्कर्षों से सहमत हैं.’ बता दें कि एम्स की इस रिपोर्ट ने अभिनेता के परिवार और उनके वकीलों की थ्योरी को खारिज कर दिया है जिसमें यह दावा किया जा रहा था कि उन्हें जहर दिया गया था और गला दबाकर मारा गया था. Also Read - Aryan Khan Drugs Case का बिहार कनेक्शन, मोतिहारी जेल में मुंबई पुलिस-NCB को मिला सुराग, जानिए

बता दें कि AIIMS पैनल ने सीबीआई को अपनी चिकित्सीय-कानूनी राय देने के बाद फाइल बंद कर दी है.. अब सीबीआई उस रिपोर्ट के साथ अपनी जांच की कड़ियों को जोड़ रही है. सूत्रों ने बताया कि AIIMS पैनल ने मुंबई के उस अस्पताल की राय पर अपनी सहमति जाहिर की है, जिसने अभिनेता का पोस्टमार्टम किया था. Also Read - Aryan Khan Drugs Case के बीच Rhea Chakraborty ने कर दिया ऐसा पोस्ट...हो गया वायरल, जानें क्या कहा

बता दें कि एम्स ने ऑटोप्सी रिपोर्ट में मौत का समय दर्ज न होने पर भी सवाल उठाया है, साथ ही कूपर हॉस्पिटल में हल्की रोशनी वाले पोस्टमार्टम रूम की ओर भी इशारा किया गया है. एम्स के एक सूत्र ने बताया कि डॉ. सुधीर गुप्ता की अध्यक्षता वाली फोरेंसिक बोर्ड ने अपनी निर्णायक रिपोर्ट केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को सौंप दी है. बता दें कि 14 जून की रात को कूपर हॉस्पिटल के तीन डॉक्टरों ने मिलकर सुशांत का पोस्टमार्टम किया था.

(इनपुट: भाषा)