Sushant Singh Rajput Suicide Case: एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या मामले में कुछ लोगों के बयानों और व्यवहार को लेकर उनके परिवार ने नाराजगी जताई है. मुल रूप से बिहार के रहने वाले सुशांत ने 14 जून को मुंबई के बांद्रा स्थित अपने फ्लैट में आत्महत्या कर ली थी. इस घटना ने बॉलीवुड को चौंका दिया था. हर कोई अचंभित है कि एक सफल अभिनेता होने के बावजूद आखिर सुशांत ने क्यों ऐसा कदम उठाया. बॉलीवुड का एक वर्ग इसके लिए इंडस्ट्री में जारी भाई-भतीजेवाद को जिम्मेदार मान रहा है. Also Read - शेखर सुमन, संदीप सिंह पर सुशांत के परिवार ने लगाए गंभीर आरोप, बोले-नौटंकी कर रहे हैं ये लोग 

सुशांत की आत्महत्या के बाद तमाम लोग उनके पटना स्थित पैतृक आवास पर उनके पिता से मिलने जा रहे हैं. इसी क्रम में पिछले दिनों एक्टर शेखर सुमन और राजद के नेता तेजस्वी यादव भी सुशांत के पिता से मिलने उनके घर पहुंचे थे. इसके बाद शेखर सुमन और तेजस्वी यादव ने पटना में एक प्रेस कांफ्रेंस किया था जिसमें एक्टर की आसमियक मौत को लेकर कई गंभीर सवाल उठाए गए थे. उन्होंने सुशांत की आत्महत्या मामले की सीबीआई जांच कराने की मांग की थी. Also Read - शेखर सुमन सुशांत के परिजनों से मिलने पहुंचे पटना, बोले- पिता अब भी गहरे सदमे में, ये ओपन और शट केस नहीं

जी न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक इस प्रेस कांफ्रेंस में एक बैनर का भी इस्तेमाल किया गया था. सुशांत के परिवार ने इस बैनर को लेकर नाराजगी जताई है. इस प्रेस कांफ्रेंस के बाद शेखर सुमन ने राजद ज्वाइन कर लिया था. इससे पहले शेखर सुमन ने कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ा था. Also Read - सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस: मुंबई पुलिस ने की यशराज फिल्म्स के दो पूर्व अधिकारियों से पूछताछ

शेखर सुमन और तेजस्वी की इस हरकत पर परिवार ने कहा है कि मुंबई में हर चीज की जांच चल रही है. ऐसे में पटना में एक राजनीतिक बैनर के तले बयानबाजी करना इसे राजनीतिक मुद्दा बनाना है. इसमें कहा गया है कि परिवार जांच की मांग करने में सक्षम है और वह ऐसा कर भी रहा है. हम पुलिस जांच रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं. ऐसे में इस मामले में किसी तरह की राजनीति या राजनीतिक हस्तक्षेप की जरूरत नहीं है. परिवार में पहले से ही कई राजनीतिक लोग हैं और वे इस मामले को देखेंगे.

सुशांत के परिवार ने कहा है कि इस प्रेस कांफ्रेंस के बारे में उन्हें सूचित नहीं किया गया. इसमें यह भी कहा गया है कि सुशांत के कथित दोस्त संदीप एस सिंह के व्यवहार से भी परिवार दुखी है. सुशांत के निधन के तुरंत बाद संदीप ने कहा था कि इस घटना में कुछ संदिग्ध नहीं है.

इतना ही नहीं संदीप शेखर सूमन के साथ प्रेस कांफ्रेंस में भी शामिल हुए थे. इस प्रेस कांफ्रेस में शेखर सुमन ने कहा था कि सुशांत ने 50 सिम कार्ड बदले थे… इससे काफी संदेह पैदा होता है.