नई दिल्ली: सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के निधन ने हर किसी को तोड़ दिया है. मौत के करीब डेढ़ महीने गुज़र जाने के बाद भी सुशांत को खोने का गम ताज़ा है. आज पूरा देश राखी का त्यौहार मना रहा है. भाई बहन के प्यार और रिश्ते को परिभाषित करता ये पर्व अपने आप में खास होता है. ऐसे में दिवंगत अभिनेता सुशांत की बहनें भी अपने भाई को याद कर रही हैं. अपने दुखों को व्यक्त करते हुए सुशांत की बहन रानी ने इस मौके पर एक इमोशनल लेटर लिखा है. ये पत्र सोशल मीडिया पर भी खूब शेयर किया जा रहा है.Also Read - दिवंगत बॉलीवुड अभिनेता Sushant Singh Rajput के 5 परिजनों की सड़क हादसे में मौत

क्या लिखा है सुशांत की बहन ने लेटर में? Also Read - Defamation Case: कंगना रनौत मुंबई की कोर्ट में पेश हुईं, जावेद अख्तर ने दायर किया था मामला

गुलशन, मेरा बच्चा Also Read - Sushant Singh Rajput की याद में फिर टूट गईं Ankita Lokhande, बोलीं- उनकी जगह कोई नहीं ले सकता...

आज मेरा दिन है.

आज तुम्हारा दिन है.

आज हमारा दिन है.

आज राखी है.

पैंतीस साल के बाद ये पहला अवसर है जब पूजा की थाल सजी है. आरती का दीया भी जल रहा है. हल्दी-चंदन का टीका भी है. मिठाई भी है. राखी भी है. बस वो चेहरा नहीं है जिसकी आरती उतार सकूं. वो ललाट नहीं है जिसपर टीका सजा सकूं. वो कलाई नहीं जिस पर राखी बांध सकूं. वो मुंह नहीं जिसे मीठा कर सकूं. वो माथा नहीं जिसे चूम सकूं. वो भाई नहीं जिसे गले लगा सकूं.

वर्षों पहले जब तुम जब आए थे तो जीवन जगमग हो उठा था. जब थे तो उजाला ही उजाला था. अब जब तुम नहीं हो तो मुझे समझ नहीं आता कि क्या करूं? तुम्हारे बगैर मुझे जीना नहीं आता. कभी सोचा नहीं कि ऐसा भी होगा. ये दिन होगा पर तुम नहीं होगे. ढेर सारी चीजें हमने साथ-साथ सीखी. तुम्हारे बिना रहना मैं अकेले कैसे सीखूं. तुम्हीं कहो.

हमेशा तुम्हारी

रानी दी

बता दें कि सुशांत सुसाइड केस में अब हर रोज़ एक नया मोड़ आ रहा है. मुंबई पहुंची बिहार पुलिस ने अपनी जांच तेज़ कर दी है. हाल ही में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे में मुंबई पुलिस के प्रमुख परमवीर सिंह को तलब कर पूरी घटना की जानकारी हासिल की है. मुंबई पुलिस के कमिश्नर परमवीर सिंह ने रविवार को सीएम से मुलाकात कर सुशांत केस की पूरी जानकारी दी.

गृह विभाग के सूत्रों ने बताया कि कमिश्नर परमवीर सिंह ने पहले गृहमंत्री अनिल देशमुख से मुलाकात की और फिर दोनों मुख्यमंत्री से मिलने के लिए गए.उल्लेखनीय है कि 34 वर्षीय राजपूत 14 जून को अपने बांद्रा स्थित आवास पर मृत मिले थे.