मुंबई: दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के परिवार वालों ने अभिनेता शेखर सुमन और निर्माता संदीप सिंह के आरजेडी नेता और बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के साथ किए गए प्रेस कॉन्फ्रेंस को ‘राजनीतिक नौटंकी’ करार दिया है. शेखर ने सुशांत के आत्महत्या के बारे में कहा था कि यह सोच से परे हैं और वह हाल ही में पटना में स्थित अभिनेता के घर पहुंचकर अपनी संवेदनाएं भी व्यक्त कीं और साथ ही यादव के साथ मिलकर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को भी आयोजित किया. Also Read - किसको पता था सुशांत सिंह राजपूत का ये गाना आखिरी होगा?

डीएनए इंडिया डॉट कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, “सुशांत के परिवार ने कहा है कि शेखर अभिनेता के असामयिक निधन से राजनीतिक लाभ उठा रहे हैं और ऐसा इसलिए कहा गया कि क्योंकि कथित तौर पर प्रेस कॉन्फ्रेंस के तुरंत बाद वह राष्ट्रीय जनता दल (राष्ट्रीय जनता दल) में शामिल होने के लिए बिल्कुल तैयार थे.” पोर्टल ने इस बात की भी जानकारी दी कि इस प्रेस मीट के बारे में उनके परिवार के सदस्य बिल्कुल अंजान थे. Also Read - SSR Case: ED के सामने पेश होने से रिया का इनकार, SC की सुनवाई होने तक मांगा वक्त

सुशांत के परिवार के हवाले से वेबसाइट ने कहा, “मुंबई में मामले की जांच की जा रही है. किसी पॉलिटिकल बैनर के तले पटना में मीडिया से इस बारे में बात करने का मकसद राजनीतिक लाभ लेना है. सुशांत का परिवार इन सब चीजों की मांग करने में खुद ही सक्षम है और इसलिए हमें किसी भी तरह की राजनीतिक हस्तक्षेप की जरूरत नहीं है. हमारे परिवार में राजनीति से जुड़े लोग पहले से ही हैं, जो ये सब कर सकते हैं.” Also Read - रिया चक्रवर्ती पर मुंबई पुलिस ने क्यों नहीं लिया अभी तक कोई एक्शन? राजपूत परिवार के वकील ने किए कई खुलासे

टाइम्सऑफइंडिया डॉट इंडियाटाइम्स से संबंधित एक रिपोर्ट में बताया गया है कि सुशांत के परिवार वालें तेजस्वी यादव और शेखर सुमन के साथ मंच साझा करने के चलते फिल्म निमार्ता संदीप सिंह से भी नाराज हैं. प्रेस कॉन्फ्रेंस में किसी राजनीतिक दल की मौजूदगी अभिनेता के परिवार को रास नहीं आया.

ज्ञात हो कि सुशांत ने 14 जून को बांद्रा में स्थित अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. वह महज 34 साल के थे.