Tandav Web Series Director Ali Abbas Zafar apologies: राजनीतिक पृष्ठभूमि पर आधारित वेब सीरीज “तांडव” (Tandav ) पर मचे बवाल के बीच वेब सीरीज के निर्माताओं ने सोमवार को बिना शर्त माफी मांगी और कहा कि उनका किसी की भावनाओं को चोट पहुंचाने का कोई इरादा नहीं था.Also Read - Pavitra Rishta 2 review: फिर याद आएगी मानव-अर्चना की लव स्टोरी, Shaheer Sheikh का है दमदार किरदार

बता दें कि पिछले सप्ताह अमेजन प्राइम वीडियो पर जारी हुई श्रृंखला में कथित तौर पर हिंदू देवताओं को आपत्तिजनक तरीके से दिखाया गया है जिसके कारण इसकी आलोचना हो रही है. इसी को देखते हुए अली अब्बास जफर ने बयान जारी किया है. Also Read - 49 साल की शेफाली शाह को कीर्ति कुल्हारी ने किया Kiss, बोलीं- हमने एक दूसरे के हाथ टच किए लेकिन शुक्र है...

‘तांडव’ के कास्ट एवं क्रू की ओर से जारी आधिकारिक वक्तव्य में कहा गया, ‘‘वेब सीरीज तांडव पर दर्शकों की प्रतिक्रिया पर हम करीब से नजर रख रहे हैं और आज एक चर्चा के दौरान सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने हमें बताया कि उन्हें वेब सीरीज के विभिन्न पहलुओं को लेकर बड़ी संख्या में शिकायतें और अर्जियां मिली हैं जो इसकी सामग्री द्वारा लोगों की भावनाओं को आहत करने संबंधी गंभीर चिंताओं और आशंकाओं के बारे में हैं.’’ Also Read - Criminal Justice 3: मिर्जापुर के कालीन भइया अपनी नई वेबसीरीज में तड़का लगाने के लिए तैयार, देखें कितना है मसाला तैयार

वक्तव्य में कहा गया, ‘‘तांडव काल्पनिक कहानी पर आधारित है और किसी भी गतिविधि, व्यक्ति या घटना से इसकी समानता होना विशुद्ध संयोग है. इसके निर्माताओं और कलाकारों का किसी व्यक्ति, जाति, समुदाय, धर्म की भावनाओं या धार्मिक आस्थाओं को आहत करने या किसी संस्था, राजनीतिक दल अथवा व्यक्ति (जीवित या मृत) का अपमान करने का कोई इरादा नहीं था.’’

इसमें कहा गया, ‘‘तांडव की पूरी यूनिट लोगों द्वारा जताई गयी चिंताओं पर संज्ञान लेती है और यदि इससे गैर-इरादतन तरीके से किसी व्यक्ति की भावनाओं को चोट पहुंची है तो हम बिना शर्त माफी मांगते हैं.’’

Image

बता दें कि इससे पहले सीरीज के निर्देशक अली अब्बास जफर और लेखक गौरव सोलंकी के विरुद्ध लखनऊ के हजरतगंज पुलिस थाने में रविवार देर रात को एक प्राथमिकी दर्ज कराई गई. इससे पहले सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने इस विवाद के सिलसिले में अमेजन प्राइम वीडियो के अधिकारियों को तलब किया था.