फिल्म निर्देशक विवेक अग्निहोत्री ने अभिनेत्री तनुश्री दत्ता के ‘‘दुर्व्यवहार और उत्पीड़न’’ के आरोपों से इनकार करते हुए कहा कि ये दावे ‘‘पब्लिसिटी हासिल करने और निजी दुश्मनी निकालने की मंशा से किए गए हैं.’’ विवेक अग्निहोत्री के वकील निधीश मेहरोत्रा ने कहा कि टीम ने मानहानि के आरोप में तनुश्री दत्ता पर मुकदमा किया है.

निधीश मेहरोत्रा ने कहा, ‘‘तनुश्री दत्ता द्वारा विवेक अग्निहोत्री के खिलाफ लगाए गए दुर्व्यवहार और उत्पीड़न के आरोप पूरी तरह झूठे, महत्वहीन और अफसोसजनक हैं. ये आरोप जानबूझकर लगाए गए हैं और पब्लिसिटी हासिल करने तथा दुर्भावनापूर्ण मंशा के साथ विवेक अग्निहोत्री के खिलाफ निजी दुश्मनी निकालने के इरादे से लगाए गए हैं.’’

उन्होंने कहा, ‘‘मेरे मुवक्किल के निर्देश पर हमने तनुश्री के खिलाफ मानहानि की कार्रवाई शुरू करने के लिए एक लीगल नोटिस भेजा है.’’ तनुश्री ने भी एक बयान जारी कर कहा कि उन्हें अग्निहोत्री और नाना पाटेकर से दो कानूनी नोटिस मिले हैं. गौरतलब है कि हाल ही में एक टीवी इंटरव्यू में तनुश्री ने आरोप लगाया कि नाना पाटेकर ने उस समय उनके साथ दुर्व्यवहार किया था जब 10 साल पहले दोनों ‘‘हॉर्न ओके प्लीज’’ के लिए एक खास गीत की शूटिंग कर रहे थे.

फिर से विवाद पैदा होने के बाद उन्होंने विवेक अग्निहोत्री पर साल 2005 में आई फिल्म ‘‘चॉकलेट’’ की शूटिंग के दौरान उनके साथ अनुचित व्यवहार करने का आरोप लगाया. यह फिल्म अग्निहोत्री के निर्देशन में बनी थी. फिल्म में इरफान खान, अरशद वारसी, सुनील शेट्टी और इमरान हाशमी जैसे स्टार भी थे.