नई दिल्ली. अभिनेता नाना पाटेकर पर यौन दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाने वाली एक्ट्रेस तनुश्री दत्ता ने मामले में नाना का बचाव करने उतरे कोरियोग्राफर गणेश आचार्या को झूठा करार दिया है. तनुश्री ने कहा कि गणेश आचार्या इस मामले में दोहरा चरित्र अपना रहे हैं और झूठ बोल रहे हैं. तनुश्री ने आरोप लगाया है कि वर्ष 2008 में फिल्म ‘हॉर्न ओके प्लीज’ के एक गाने की शूटिंग के दौरान नाना पाटेकर ने उनके साथ अभद्र व्यवहार किया था. उनका कहना है कि इस घटना की पुलिस से शिकायत करने के बावजूद उनके मामले को दबा दिया गया. मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, तनुश्री के नाना पाटेकर पर आरोप लगाने के बाद गणेश आचार्या ने कहा था कि शूटिंग के दौरान कुछ हुआ था, जिसकी वजह से कुछ देर तक शूटिंग रोक दी गई थी. लेकिन गाने में कोई अंतरंग सीन नहीं फिल्माया गया था. नाना के पक्ष में गणेश आचार्या की इन दलीलों के बाद तनुश्री ने कहा है कि नाना पाटेकर के अभद्रता करने के बाद भी फिल्म-क्रू ने उनका साथ नहीं दिया और उन पर अंतरंग सीन फिल्माने का दबाव दिया गया.

तनुश्री दत्ता ने लगाया आरोप, ‘सेट पर मेरे साथ बदतमीजी करते थे नाना पाटेकर’

तनुश्री दत्ता ने लगाया आरोप, ‘सेट पर मेरे साथ बदतमीजी करते थे नाना पाटेकर’

सेट पर परेशान करते रहते थे नाना पाटेकर
फिल्म ‘आशिक बनाया आपने’ से बॉलीवुड में अपना करियर शुरू करने वाली तनुश्री दत्ता ने मीडिया के साथ बातचीत में कहा कि नाना पाटेकर फिल्म की शूटिंग के दौरान सेट पर लगातार परेशान करते रहते थे. उन्होंने कहा, ‘मैंने कई बार नाना की हरकतों की शिकायत की, लेकिन मेरी किसी ने नहीं सुनी. मेरे कॉन्ट्रैक्ट में साफ लिखा था कि मुझे इस फिल्म में सोलो-डांस के लिए लिया गया है. कॉन्ट्रैक्ट में कहीं भी डुएट-सॉन्ग का जिक्र नहीं है. बावजूद इसके नाना पाटेकर के कारण फिल्म की पूरी यूनिट मुझ पर अंतरंग सीन फिल्माने का दबाव बनाती रही.’ तनुश्री ने कहा कि उस समय का माहौल मेरे लिए किसी उत्पीड़न से कम नहीं था. तनुश्री ने कहा, ‘गणेश आचार्या उन लोगों में से एक थे, जो मुझ पर शूटिंग के दौरान अंतरंग सीन फिल्माने का दबाव बना रहे थे. फिल्म की यूनिट से जुड़े अमित सिद्दिकी और राकेश सारंगी समेत सभी लोग इस घटना में शामिल थे.’

तनुश्री ने कहा- ऐसे एक्टरों पर प्रतिबंध लगे
शूटिंग के दौरान अभद्र व्यवहार का आरोप लगाने वाली एक्ट्रेस तनुश्री दत्ता ने कहा कि नाना पाटेकर जैसे एक्टरों के कारण इंडस्ट्री की बदनामी होती है. ऐसे एक्टरों पर प्रतिबंध लगना चाहिए. उन्होंने कहा कि गाने की शूटिंग में अंतरंग सीन नहीं करने पर मुझ पर और मेरे परिवार पर हमला किया गया. मैंने घटना की शिकायत पुलिस में दर्ज कराई, लेकिन इससे पहले ही दूसरे पक्ष ने काउंटर एफआईआर दर्ज करा दी थी. मेरे पिता, स्पॉट ब्वॉय और हेयरड्रेसर को घटना के दो साल बाद तक परेशान किया गया. लेकिन किसी ने मेरी मदद नहीं की. गणेश आचार्या द्वारा मामले में नाना पाटेकर का बचाव करने के मामले पर तनुश्री ने कहा, ‘वह शख्स निहायत ही झूठा और दोहरे चरित्र वाला है. 10 साल पहले हुई घटना के बारे में जब उसे सब कुछ साफ-साफ बताना चाहिए, लेकिन चूंकि वह खुद इस घटना में शामिल है, इसलिए मामले को मैनिपुलेट करने की कोशिश कर रहा है.’ नाना पाटेकर की हरकतों को लेकर तनुश्री ने कहा, ‘मेरी लड़ाई नाना या गणेश से नहीं है, इनके जैसे लोगों से है. मैं चाहती हूं कि महिलाओं से अभद्र व्यवहार करने वाले ऐसे लोगों पर इंडस्ट्री प्रतिबंध लगाए, ताकि यह दूसरों के लिए उदाहरण बने’.

तनुश्री के पक्ष में उतरी पत्रकार, किया ट्वीट
नाना पाटेकर और तनुश्री दत्ता के इस विवाद के बीच एक पत्रकार जैनिस सिकेरिया, पीड़ित एक्ट्रेस के बचाव में उतर आई हैं. नाटकीय घटनाक्रम के तहत तनुश्री के आरोप लगाने और गणेश आचार्या के नाना के पक्ष में दी गई दलीलों पर जेनिस ने कहा कि दशकभर पहले फिल्म की शूटिंग के दौरान हुआ वह हादसा उन्हें याद है. जेनिस ने बुधवार को इस मामले पर ट्वीट करते हुए कहा, ‘कुछ घटनाएं आपको याद रह जाती हैं, भले ही वह दशकभर पहले हुई हों. फिल्म ‘हॉर्न ओके प्लीज’ की शूटिंग के दौरान तनुश्री के साथ जो कुछ हुआ था, वह ऐसी ही घटनाओं में से एक है. मैं उस वक्त वहीं थी.’ जेनिस सिकेरिया ने एक के बाद एक किए गए अपने दर्जनभर से ज्यादा ट्वीट में शूटिंग के दौरान हुई सभी घटनाओं का जिक्र किया है.