फिल्म द गांधी मर्डर महात्मा गांधी की पुण्यतिथि 30 जनवरी को दुनियाभर में रिलीज होने जा रही है, लेकिन भारत में इसकी रिलीज रद्द कर दी गई है, क्योंकि खास तत्वों ने फिल्म के निर्माताओं को धमकी दी है. Also Read - अमेरिका में किसान आंदोलन का उग्र समर्थन, महात्मा गाँधी की प्रतिमा तोड़ी, खालिस्तानी झंडे लहराया

Also Read - ममता बनर्जी ने कहा- महात्मा गांधी को मारने वालों के आगे नहीं झुकेगा पश्चिम बंगाल, जेल में रहना पसंद करूंगी, लेकिन...

PICS: 36 हजार की जैकेट पहनता है प्रियंका का डॉगी , विश्वास नहीं है तो देखिए तस्वीरें Also Read - ब्रिटेन में आखिर क्यों गिराई जा रही है महात्मा गांधी की मूर्ती! ये वजह आई सामने

फिल्म की निर्माता लक्ष्मी आर. अय्यर ने कहा, “हमने ‘द गांधी मर्डर’ को भारत में रिलीज न करने का निर्णय लिया है. भारत एक बड़ा बाजार है, और यहां हर तरह के लोग हैं. दुर्भाग्यवश कुछ तत्वों ने निर्माता और निर्देशक को धमकी दी है, जिसमें शारीरिक रूप से नुकसान पहुंचाने की धमकी भी शामिल है.”

करीम त्रैदिया और यूएई स्थित निर्देशक पंकज सहगल द्वारा सहनिर्देशित इस फिल्म में महात्मा गांधी की 30 जनवरी, 1948 को हुई हत्या के पीछे की वास्तविक सच्चाई पर निर्माताओं की सोच को सामने रखती है.

अय्यर ने कहा, “केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड ने पिछले वर्ष इसे मंजूरी दे दी थी. यह किसी भी रूप में पक्षपातपूर्ण नहीं है. यदि भारतीय सच जानने के प्रति अधिक उत्सुक हैं, तो यह सही समय नहीं है.”

फिल्म में अमेरिकी अभिनेता स्टीफन लैंग और दिवंगत अभिनेता ओम पुरी के अलावा अन्य लोग शामिल हैं.

धमकी के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, “ये अनजान लोग हैं और अनजान नंबरों से काल करते हैं. धमकी देने वाले निर्माताओं के परिवार, अन्य कारोबार से अच्छी तरह परिचित हैं.”

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.