Kolkata: कोरोना काल के बीच आज दुर्गाष्टमी मनाई जा रही है. इस मौके पर तृणमूल कांग्रेस (TMC ) की खूबसूरत और चर्चित सांसद नुसरत जहां ने कोलकाता के सुरुचि संघ पंडाल पहुंची और उन्होंने मां दुर्गा की विधिवत पूजा की और आशीर्वाद लिया. दुर्गाष्टमी के मौके पर नुसरत जहां ने मां दुर्गा का दर्शन किया और आरती भी की. इस दौरान उन्होंने पंडाल में आयोजित पारंपरिक वादन यंत्र ढाक (ढोलक) नृत्य किया और ढाकियों के साथ उसे बजाया भी. Also Read - Viral Video: महिला डांसर के साथ थिरक के नाचे कांग्रेस विधायक, जमकर उड़े नोट

समाचार एजेंसी एएनआई ने कुछ तस्वीरें और वीडियो जारी की हैं, जिनमें देखा जा सकता है कि नुसरत जहां सुरुचि संघ के पंडाल में माता का दर्शन कर रही हैं. यहां नुसरत पूजा करती हैं और फिर ढाक की धुन पर नाचती भी हैं. वीडियो में देखा जा सकता है कि ढाक की धुन पर कुछ श्रद्धालु महिलाएं नृत्य कर रही हैं और फिर बीच में नुसरत जहां उनका साथ देने लगती हैं. उसके बाद वो ढाक पर भी हाथ आजमाती हैं और ताल में ताल मिलाने की कोशिश भी करती हैं. Also Read - Video: दुबई से टॉय कार, नेल कटर और फेस क्रीम में छिपाकर लाया था सोना, अधिकरियों ने खोज निकाला

बता दें कि पिछले साल नुसरत जहां अपनी शादी के बाद दुर्गा पूजा के अवसर पर पंडाल में गई थीं और उन्होंने ‘सिंदूर खेला’ में भी हिस्सा लिया था. इस पर काफी विवाद भी हुआ था. तब नुसरत ने कहा था कि वह सभी धर्मों के लोगों का सम्मान करती हैं.  ‘सिंदूर खेला’ बंगाल का पारंपरिक प्रयोजन है जिसमें महिलाएं एक-दूसरे को सिर से नाक तक सिंदूर लगाती हैं और मिठाई बांटती हैं.

बता दें कि कोरोना की वजह से ढाक को पंडाल में ले जाने की इजाजत नहीं थी मगर बीते दिनों अदालत ने अपने आदेशों में संशोधन करते हुए ढाकियों (ढोलकिया) को पंडालों के नो-एंट्री जोन के भीतर रहने की अनुमति दी है.  उन्हें सभी सुरक्षा और स्वच्छता प्रोटोकॉल का पालन करना होगा.