नई दिल्ली: पूरा देश अब तक कोरोना का सामना कर रहा है. आम आदमी से लेकर फ़िल्मी हस्तियां पिछले कुछ महीनों से घरों में कैद हैं. ऐसे में अपने बेबाक अंदाज़ से सबका दिल जीतने वाली एक्ट्रेस-राइटर और इंटीरियर डिजाइनर ट्विंकल खन्ना (Twinkle Khanna) का कहना है कि उनकी सबसे बड़ी लॉकडाउन सीख यह रही कि हम बच्चों को कैसे शिक्षित करते हैं. Also Read - Akshay & Twinkle Wedding Anniversary: अक्षय और ट्विंकल की शादी को पूरे हुए 20 साल, एक्ट्रेस ने लिखा, 'आप ही ब्यूटी और ब्रेन हैं'

उन्होंने कहा, “अभी तक हम उन्हें केवल स्कूल भेजकर और उनके रिपोर्ट कार्ड को देखकर खुश होते थे. लेकिन अब जब हमारे पास यह मौका है कि हम वास्तव में एक बच्चे की व्यक्तिगत कमजोरियों और शक्तियों को देखें और उस पर काम करें और शायद एक अलग तरीके से सीखने की दिशा में भी काम करें. यह सब मेरे लिए काफी रहस्योद्घाटन करने वाला रहा है.” ट्विंकल एक दशक से अधिक समय तक कोहलर के साथ उसकी एंबेसडर के रूप में जुड़ी रही हैं. Also Read - जब पापा राजेश खन्ना ने दी थी ट्विंकल को एक साथ 4 बॉयफ्रेंड बनाने की सलाह, फादर्स डे पर हुआ खुलासा 

घर की डिजाइनिंग को लेकर चर्चा के दौरान उन्होंने कहा, “जो लोग डिजाइन में रुचि रखते हैं उनके पास हमेशा अद्भुत और सुंदर घर होते हैं चाहे वे डिजाइनरों की मदद से ये काम करें या वे इसे खुद करें. इस समय, लोग अंदर की ओर देख रहे हैं. इस समय घर ही एकमात्र स्थान है जो उनके पास है. इसके अलावा उनके पास समय भी है. हम उम्मीद करते हैं कि लोग अपने आसपास के माहौल में सुधार करेंगे.”

उन्हें रंग कैसे प्रेरित करते हैं? इस पर उन्होंने कहा, “मैंने हमेशा रंगों के साथ बड़े पैमाने पर काम किया है. मुझे लगता है कि यह किसी भी स्थान को अच्छा और आमंत्रित महसूस कराने का एक बहुत जल्दी से अपनाया जा सकने वाला और आसान तरीका है. जब मैंने शुरुआत की थी, तब सभी बाथरूम अस्पताल की तरह बहुत सफेद हुआ करते थे. कोहलर उन ब्रांडों में से एक है जिसने ये तस्वीर बदल दी. उनके पास सुनहरे, काले और कई अद्भुत रंग थे. इससे बाथरूम में अचानक सकारात्मक बदलाव आया था.”