सुप्रसिद्ध पार्श्व गायिका वाणी जयराम चेन्नई में अपने आवास पर मृत मिलीं, इसी साल पद्म भूषण पुरस्कार मिला था

सुप्रसिद्ध पार्श्व गायिका वाणी जयराम चेन्नई में अपने आवास पर मृत पाई मिली हैं. उन्हें इस वर्ष के लिए पद्म भूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया था

Published: February 4, 2023 3:52 PM IST

By India.com Hindi News Desk | Edited by Laxmi Narayan Tiwari

सुप्रसिद्ध पार्श्व गायिका वाणी जयराम चेन्नई में अपने आवास पर मृत मिलीं, इसी साल पद्म भूषण पुरस्कार मिला था
चेन्नई पुलिस ने कहा कि वयोवृद्ध पार्श्व गायिका वाणी जयराम चेन्नई में अपने आवास पर मृत पाई गईं हैं.

Tamil Nadu, Chennai, तमिलनाडु: सुप्रसिद्ध पार्श्व गायिका वाणी जयराम चेन्नई में अपने आवास पर मृत पाई मिली हैं. उन्हें इस वर्ष के लिए पद्म भूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया था. लोकप्रिय हिंदी गीत ‘बोले रे पपीहरा’ सहित 19 भाषाओं में 10,000 से अधिक गाने गा चुकीं मशहूर गायिका वाणी जयराम का आज शनिवार को निधन हो गया. यह तब पता चला जा नौकरानी ने उनका दरवाजे की 5 बार बेल बजाई, लेकिन उन्होंने दरवाजा नहीं खोला. इसके बाद पुलिस को बुलाया गया और जब पुलिसकर्मी दरवाजा खोलकर कर अन्दर पहुंचे तो पार्श्व गायिका वाणी जयराम मृत मिलीं. वह अकेले ही अपने आवास पर रहती थीं.

Also Read:

चेन्नई के थाउज़ेंड लाइट्स इलके के पुलिस के अधिकारियों ने कहा कि वयोवृद्ध पार्श्व गायिका वाणी जयराम चेन्नई में अपने आवास पर मृत पाई गईं हैं. पुलिसकर्मी अनुभवी पार्श्व गायिका वाणी जयराम के आवास पर पहुंचे, जिनका चेन्नई में उनके आवास पर निधन हो गया. उन्हें इस वर्ष के लिए पद्म भूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया था.

गायिका की घरेलू सहायिका हमेशा की तरह शनिवार को काम पर आई. हालांकि, बार-बार कॉलबेल दबाने के बावजूद कोई जवाब नहीं मिला. उसने तुरंत गायिका के रिश्तेदारों को सूचित किया, जिन्होंने पुलिस को सूचना दी. पुलिस ने वाणी जयराम के रिश्तेदारों की मौजूदगी में घर का दरवाजा तोड़ा और उन्हें मृत पाया.

वाणी जयराम की नौकरानी मलारकोडी ने कहा, मैंने वाणी जयराम के आवास पर पांच बार घंटी बजाई, लेकिन उसने दरवाजा नहीं खोला. यहां तक कि मेरे पति ने भी उन्हें फोन किया, लेकिन उन्होंने कॉल रिसीव नहीं किया. केवल वही इस आवास पर रहती है.

19 भाषाओं में 10,000 से अधिक गाने गा चुकीं मशहूर गायिका वाणी जयराम का निधन हो गया. वह 77 वर्ष की थीं और शहर के एक अपार्टमेंट में अकेली रहती थीं. लोकप्रिय हिंदी गीत ‘बोले रे पपीहरा’ जैसा गीत भी गया है. वाणी जयराम के पति की पहले ही मौत हो गई थी और उनकी कोई संतान नहीं है.

(इनपुट: ANI- bhasha)

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें मनोरंजन की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date: February 4, 2023 3:52 PM IST