अंग्रेजी के बेहद लोकप्रिय लेखक रस्किन बॉन्ड अपनी किताबों और लेखनी के लिए हमेशा लोगों के बीच फेमस रहे हैं. इन दिनों अपनी अलौकिक कहानियों पर तैयार की जा रही वेब सीरिज को लेकर सुर्खियों में बने हुए हैं. रस्किन बॉन्ड का कहना है कि भूत प्रेत डराने या लोगों को नुकसान पहुंचाने के लिए नहीं है और लोग उनसे भयभीत हो जाते हैं, क्योंकि वे हमारे जैसे नहीं हैं.

84 वर्षीय लेखक ने कहा कि वह उन लोगों में नहीं है जो अलौकिक शक्तियों पर बहुत अधिक यकीन करते हैं लेकिन वह भूत प्रेत की कहानियों को पढ़ते हुए बड़े हुए हैं. मिस्टर जेम्स और अल्गेरनोन ब्लैकवुड जैसे लेखकों की भूत प्रेत की कहानियों में उनकी हमेशा दिलचस्पी रही है. बॉन्ड की कहानियों पर पहले फिल्में बनायी गई थीं, लेकिन यह पहला मौका है कि उनके रचनाकर्म को लेकर वेब सीरीज बनायी जा रही है.

‘परछाई : गोस्ट स्टोरीज बॉय रस्किन बॉड’ का पहला एपिसोड ZEE5 पर 15 जनवरी को प्रदर्शित किया जाएगा और जून तक प्रसारित होता रहेगा. रस्किन बॉन्ड का नाम उन लेखकों में शुमार किया जाता है जो भारतीय लोककथाओं से हमेशा प्रेरणा लेते रहे हैं. उन्होंने बताया, ‘‘हमारी लोक कथाओं में विभिन्न प्रकार के भूत-प्रेत हैं. इसमें ‘प्रेत’, ‘भूत’ और ‘पिशाच’ शामिल हैं और वे पीपल और अन्य तरह के पेड़ों में रहते हैं.

कुछ साल पहले आगरा के नजदीक एक गांव की बुजुर्ग महिला ने गांव के भूत और ‘प्रेत’ के बारे में कहानियां सुनाई थीं. इन कहानियों में पुनर्जन्म के तत्व हैं. इन कहानियों में धार्मिक मान्यतायें भी शामिल हैं.’’ बॉन्ड ने मीडिया से कहा, ‘‘मैं हमेशा अनुभव करता हूं कि भूत हमें परेशान नहीं हैं या नुकसान नहीं पहुंचाते हैं. वे उन पुराने ठिकानों या स्थानों की तलाश में रहते हैं जिनसे वे जुड़े हुए रहे हैं. हो सकता है इसके पीछे कोई विशेष कारण हो या हो सकता है बस यूं हीं.’’

(इनपुट एजेंसी से भी)