आम लोगों के साथ फिल्म इंडस्ट्री के लिए भी ये साल बहुत बुरा रहा. आए दिन किसी ना किसी मौत की खबर से दिल दहल सा जाता है. ऋषि कपूर. इरफान खान. सरोज खान. सुशांत सिंह राजपूत. एसपी बालासुब्रमण्यम. राहत इंदौरी. कई कलाकार इस दुनिया को छोड़कर चले गए. Also Read - Jaan Kumar Sanu की गलती के लिए पापा कुमार सानू ने माफी मांगी, बोले- पता नहीं इनकी मां ने....

अब खबर है कि फिल्म ‘अंकुश’ के लिए ‘इतनी शक्ति हमें देना दाता, मन का विश्वास कमजोर होना…’ जैसा बेहद लोकप्रिय प्रार्थना गीत लिखनेवाले गीतकार और लेखक अभिलाष ने दुनिया को अलविदा कह दिया. रविवार का मुंबई के एक अस्पताल में उनका निधन हो गया. अभिलाष लीवर कैंसर से पीड़ित थे. उनके पास इलाज के लिए पैसे तक नहीं थे. Also Read - 'आप बिग बॉस नहीं देखते हैं तो ये मत समझिए कि बहुत महान हैं', बोलकर भड़की तारक मेहता की 'बबीता जी'

‘इतनी शक्ति हमें देना दाता’ गीत के अलावा अभिलाष ने ‘सांझ भई घर आजा’, ‘आज की रात न जा’, ‘वो जो खत मुहब्बत में’, ‘तुम्हारी याद के सागर में’ ‘संसार है इक नदिया’, ‘तेरे बिन सूना मेरे मन का मंदिर’ आदि गीत भी लिखे थे. Also Read - Kajal Aggarwal Wedding: हल्दी चढ़ी दुल्हन को, अब हो जाएगी पराई, साजन के घर मिले इतना प्यार, बाबुल को ना करे याद

हाल ही में उनकी पत्नी नीरा ने इंडियन परफॉर्मिंग राइट्स सोसायटी से मदद मांगी थी. कोरोना की वजह से अभिलाष के अंतिम संस्कार में कम लोग ही शामिल हो पाए.