…लेकिन अगर दो बालिग जोड़े को प्यार हो जाता है. ये प्यार परवान चढ़ता है. दोनों समाज और परंपराओं की सीमा लांघ कर जिस्मानी रिश्ता बना लेते हैं. लड़की प्रेग्नेंट हो जाती है. लेकिन प्यार के लिए जीने-मरने की कसमें खाने वाला लड़का बच्चे को अपना नाम देने से मुकर जाता है….तब???? ऐसी स्थिति में लड़की क्या करे?? बदनाम होने के डर से आत्महत्या कर ले, या फिर सबसे लड़कर अपने पेट में पल रहे बच्चे की जिम्मेदारी संभाले. Exclusive: लाली की शादी में क्यों दीवाने हुए नटखट ‘लड्डू’ ? Also Read - Swara Bhaskar ने साड़ी में दिखाए अपने बोल्ड मूव्स, आफ्टर पार्टी का वीडियो वायरल...फैंस हुए दीवाने- Video

कुछ ऐसी ही कहानी है फिल्म ‘लाली की शादी में लड्डू दीवाना’. जिसमें लड़की शादी से पहले प्रेग्नेंट हो जाती है. इस सीन पर वीएचपी ने कड़ी आपत्ति जताई है. फिल्म के प्रोड्यूसर टी.पी. अग्रवाल के घर के सामने विरोध-प्रदर्शन भी किया गया है. कार्यकर्ताओं का कहना है, ‘ये विषय हमारी संस्कृति के खिलाफ है. हिंदू धर्म के अनुसार गर्भवती औरत की ऐसे शादी नहीं कराई जा सकती है.’ Also Read - Amitabh Bachchan ने परिवार और स्टाफ संग लगवाया कोरोना वैक्सीन का टीका, 47 साल की Malaika Arora ने भी लिया पहला डोज

दूसरी ओर समाज भी ऐसी महिलाओं को नीची नजर से देखता. ये असंस्कारी महिलाओं की ये श्रेणी में आती है क्योंकि समाज और परंपराओं के विरूद्ध जाकर काम करती हैं. Also Read - मोहित चड्डा की 'Flight' अब 2 अप्रैल को भरेगी 'उड़ान', जानें रिलीज डेट में क्यों हुआ बदलाव...

protest

हम इस विषय को कानूनी दृष्टिकोण से देखें तो बच्चा पैदा करना बालिग जोड़े की निजी इच्छा पर आधारित होता है. हां, लेकिन आपस में किसी विवाद को लेकर शिकायत दर्ज होती है तो कानून हस्ताक्षेप करता है

अगर हम हिंदू धर्म ग्रंथों के अनुसार बात करें तो हमारे यहां कुंती भी थी जिन्होंने शादी से पहले बच्चे को जन्म दिया था. द्रौपदी भी थी जिसने पांच लोगों से शादी की थी. गंधर्व विवाह, स्वयंवर भी ऐसे कई उदाहरण हैं जिसमें महिलाओं को खुद अपनी मर्जी से सेक्स करने या शादी के लिए पार्टनर चुनने की इजाजत दी गई है.

अब जब हमनें लिव इन रिलेशनशिप के कांसेप्ट को अपना लिया है और समलैंगिकता पर बात कर रहे हैं तो शादी से पहले गर्भवती हो जाना आपको कोई बड़ी बात नहीं लगनी चाहिए.

फिल्म इंडस्ट्री में अच्छे मुद्दों पर कई फिल्में बन रही हैं. उनपर बात होनी चाहिए. बहस होनी चाहिए. न की विरोध. और फिर प्रेग्नेंट हो जाना कोई शर्म की बात नहीं हैं, शर्म की बात है एक बाप का अपनी जिम्मेदारी से भाग जाना.

lali

फिल्म का ट्रेलर काफी रोचक है. इस विषय को एक कॉमेडी की तरह फिल्म में रखा गया है. फिल्म में अक्षरा हसन, गुरमीत चौधरी, विवान शाह जैसे कलाकार हैं. फिल्म में अक्षरा हसन एक ऐसी लड़की की भूमिका में जो शादी से पहले गर्भवती हो जाती है. इन सब के अलावा इसमें रवि किशन, सौरभ शुक्ला, संजय मिश्रा भी हैं.