वडोदरा: विश्व हिंदू परिषद (विहिप) ने मंगलवार को कहा कि वह सलमान खान की आने वाली फिल्म लवरात्रि का प्रदर्शन नहीं होने देगी क्योंकि उसका नाम एक हिंदू त्योहार के मायने को विकृत करता है. विहिप के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने कहा, ‘‘ हम देश के सिनेमाघरों में इसका प्रदर्शन नहीं होने देंगे. हम नहीं चाहते कि हिंदुओं की भावनाएं आहत हों.’’ Also Read - महाराष्ट्र में एक और साधु की हत्या, भड़की VHP ने कहा- शिवसेना को 'सोनिया सेना' न बनाओ प्लीज़

संवाददाताओं से बातचीत करते हुए कुमार ने कहा, ‘‘यह फिल्म हिंदू त्योहार नवरात्रि की पृष्ठभूमि में बनी है और नाम इसके अर्थ को विकृत करता है.’’ नवरात्रि देवी दुर्गा के नौ अवतारों की पूजा के लिए नौ रातों तक चलने वाला उत्सव है. इस दौरान देशभर में उत्सवों का आयोजन होता है, खास तौर पर गुजरात इसके लिए प्रसिद्ध है. Also Read - सलमान खान के जीजा आयुष शर्मा का खुलासा, इस वजह से अपने बच्चों का रखा मुस्लिम नाम 

लवरात्रि गुजरात पर केंद्रित बताई जा रही है और इसके इस साल पांच अक्तूबर को रिलीज होने की उम्मीद है. लगभग लगभग इसी समय पूरे देश में नवरात्रि मनाई जाएगी. सलमान खान अपने जीजा आयुष शर्मा को अपनी होम प्रोडक्शन ‘‘ लवरात्रि ’’ से लॉन्च कर रहे हैं. उनके साथ वरीना हुसैन फिल्म में मुख्य भूमिका में हैं. आयुष की तरह वरीना की भी यह पहली फिल्म है. फिल्म के निर्देशक अभिराज मीनावाला हैं. Also Read - Coronavirus In Pakistan: हिन्दुओं के साथ भेदभाव का आरोप, खाने को हैं मोहताज

पूर्व में भी विहिप और कई दूसरे संगठन अलग-अलग मुद्दों को लेकर फिल्मों के प्रदर्शन का विरोध करते रहे हैं. करणी सेना ने फिल्म पद्मावत के प्रदर्शन को लेकर विरोध किया था. निर्माताओं को इसका नाम बदलना पड़ा था. इससे पहले बाजीराव मस्तानी, गोलियों की रासलीला रामलीला और गुजारिश फिल्मों की रिलीज से पहले इस तरह के विवाद हो चुके हैं.