असम के निर्देशक शाहिद खान की शॉर्ट फिल्में ‘मिस्टेक’ और ‘अलर्ट कंडीशन: रेड’ को दादा साहेब फाल्के अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव के लिए चुना गया है. महोत्सव में फीचर फिल्मों, लघु फिल्मों, डॉक्यूमेंट्री, एनीमेशन, संगीत वीडियो और एड फिल्मों के वर्ग हैं. यह मुंबई में 20 फरवरी को आयोजित होगा. शाहिद ने मीडिया से बातचीत में बताया, “ऐसे प्रतिष्ठित फिल्म महोत्सव में दोनों फिल्मों का आधिकारिक चुनाव वास्तव में बहुत शानदार है. मुझे आशा है कि मेरी फिल्में मेरे होम टाउन असम के लिए और खुशखबरियां लाएंगी.”

उन्होंने कहा, “दोनों फिल्में यहां दिखाई जाएंगी, इसके साथ ही ये महोत्सव में अन्य फिल्मों के साथ प्रतिस्पर्धा करेंगी.” ‘अलर्ट कंडीशन : रेड’ एक लड़की की कहानी है, जिसका पहला पीरियड एक सार्वजनिक स्थान पर होता है. वहीं ‘मिस्टेक’ एक ऐसी लड़की की कहानी है, जो एक दिन गलती से अपने प्रेमी की जगह अपने पिता को संदेश भेज देती है.

शाहिद ने बताया कि उनकी फिल्म मिस्टेक बंग्लादेशी राइटर नीला हारून तालुकदार ने लिखी है जबकि दिलीप रजक ने इसे प्रोड्यूस किया है. सबसे पहले इस फिल्म को सूरी फिल्म फेस्टिवल में दिखाया गया था. उनकी शॉर्ट फिल्म मिस्टेक को बनाने में 70 हजार रुपए का खर्च आया जिसमें सूरज कलिता का साथ मिला.