मुंबई: कोरोना वायरस से स्वस्थ होने के लगभग एक महीने बाद एक्ट्रेस जोया मोरानी ने कहा है कि इस महामारी से संक्रमित लोगों की मदद करने के वास्ते उन्होंने अपना प्लाज्मा दान किया है. मोरानी को अप्रैल में पृथक केन्द्र भेजा गया था और अब वह संक्रमण मुक्त हो चुकी हैं. उन्होंने कोविड-19 से ठीक हो चुके लोगों से प्लाज्मा दान देने की अपील की. Also Read - दिल्‍ली एम्स में अभी तक 195 स्वास्थ्यकर्मी कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं, 2 की जान गई

मोरानी ने शनिवार को इंस्टाग्राम पर लिखा, ‘‘प्लाज्मा थेरेपी परीक्षण के लिए आज नायर अस्पताल में रक्तदान किया. यह दिलचस्प था! वहां मौजूद दल बेहद सतर्क और उत्साही था. किसी आपात स्थिति से निपटने के लिए वहां एक चिकित्सक मौजूद था और सारे उपकरण नए तथा सुरक्षित थे.’’ उन्होंने चिकित्सकों का शुक्रिया अदा किया और उम्मीद जताई कि इससे मरीजों को मदद मिलेगी. Also Read - अस्पताल प्रशासन की लापरवाही आई सामने, कूड़ेदान में मिले पीपीई किट का किया गया इस्तेमाल

  Also Read - एमपी में Home Quarantine के नियम तोड़े तो अब लगेगा 2000 रुपए का जुर्माना

View this post on Instagram

 

Donated my blood today for the #plasmatherapy trials at #nairhospital .. it was fascinating !!! Always a silver lining i suppose … the team there was so enthusiastic and careful. There was a general physician on standby just incase of emergency and the equipment brand new and safe !!! All #Covid19 recovered people can be a part of this trial , to help others covid patients recover ! Thank you Dr Jayanti Shastri and Dr Ramesh Waghmare for taking such good care of me .. hope this works 🤲🏽🤲🏽🤲🏽🤲🏽🤲🏽🤲🏽 #covidrecovery #IndiaFightsCorona They even gave me a certificate and 500 rs , Wont lie , i felt super cool today ☺️

A post shared by Zoa💫 (@zoamorani) on


मोरानी ने लिखा, ‘‘कोविड-19 से ठीक हो चुके सभी लोग परीक्षण का हिस्सा बन सकते हैं ताकि कोरोना वायरस संक्रमित लोगों की ठीक होने में मदद की जा सके. उम्मीद करती हूं कि यह सफल रहे. उन्होंने मुझे एक प्रमाणपत्र दिया और 500 रुपए भी दिए. झूठ नहीं बोल रही, आज मैं बहुत अच्छा महसूस कर रही हूं.’’

गौरतलब है कि जोया फिल्म निर्माता करीम मोरानी की बेटी हैं. जोया, करीम मोरानी और उनकी दूसरी बेटी शजा मोरानी अप्रैल में संक्रमित पाए गए थे. ठीक होने के बाद उन्हें पिछले माह अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी.