Amitabh Bachchan, Bollywood, Delhi, Delhi Sikh Gurdwara Management committee, COVID-19, Guru Tegh Bahadur, Guru Tegh Bahadur, Delhi: देश में कोरोना संक्रमण महामारी में संक्रमितों की मदद के लिए बॉलीवुड के सीनियर एक्‍टर अमिताभ बच्‍चन (Amitabh Bachchan) मदद के लिए आगे आए हैं. अमिताभ बच्‍चन ने देश की राजधानी में रविवार से शुरू हुए 300 बेड वाले दिल्‍ली गुरु तेग बहादुर COVID केयर सेंटर के संचालन के लिए 2 करोड़ रुपए (Amitabh Bachchan donated Rs 2 crores) की राशि दान दी है. इसके लिए दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (Delhi Sikh Gurdwara Management committee) के अध्यक्ष ने अमिताभ बच्‍चन को धन्‍यवाद दिया है. Also Read - Coronavirus Cases In India: कोरोना संक्रमण के मामलों में आई कमी, 24 घंटे में 62 हजार से अधिक लोग संक्रमित, 2,542 लोगों की मौत

दिल्‍ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष ने रविवार को बताया कि आज से गुरु तेग बहादुर COVID देखभाल केंद्र आज 300 बिस्तरों के साथ संचालन शुरू कर रहा है. “मैं अमिताभ बच्चन को इस सुविधा के लिए 2 करोड़ रुपए के योगदान के लिए धन्यवाद देता हूं. उन्‍होंने यह भी कहा, ”सिख लीजेंडरी हैं.” Also Read - COVID 19 Unlock: पंजाब, बिहार, राजस्थान समेत इन राज्यों में आज से अनलॉक शुरू, जानें कहां क्या खुला

अमिताभ बच्चन ने गुरुद्वारा रकाब गंज साहिब में शुरू किए गए श्री गुरु तेग बहादुर कोविड देखभाल केंद्र को वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से निपटने के लिए दो करोड़ रुपए दान दिए हैं. दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन समिति के अध्यक्ष मंजिंदर सिंह सिरसा ने ट्विटर पर यह जानकारी दी. सिरसा ने रविवार को ट्वीट किया, ” सिख महान है, उनक सेवा को सलाम,’अमिताभ बच्चन जी ने श्री गुरु तेग बहादुर कोविड देखभाल केन्द्र को दो करोड़ रुपये का योगदान देते समय यह शब्द कहे.”

उन्होंने कहा कि दिल्ली में ऑक्सीजन की कमी है, बच्चन हर दिन केंद्र में चल रहे काम के बारे में पूछते थे. मध्य दिल्ली के गुरुद्वारा रकाब गंज साहिब में सोमवार दोपहर से 300 बिस्तर वाले गुरु तेग बहादुर कोविड देखभाल केंद्र को खोला गया है. अन्य एक ट्वीट में सिरसा ने बताया कि 78 वर्षीय अभिनेता ने इस केंद्र के लिए विदेश से ऑक्सीजन सिलेन्डर भी मंगवाए हैं. उन्होंने कहा, ”वह केवल बड़े पर्दे के ही नहीं असल जिंदगी में भी एक नायक हैं.”

बच्चन ने रविवार को प्रसारित किए गए ‘वैक्स लाइव: द कंसर्ट टू रियुनाइट द वर्ल्ड’ के दौरान वैश्विक समुदाय से वैश्विक महामारी की दूसरी लहर की मार झेल रहे भारत की मदद करने की अपील की थी. दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी में रविवार को कोविड-19 के 13,336 नए मामले सामने आए और संक्रमण से 273 और लोगों की मौत हुई.

कोरोना के कहर में कमी दिखी, 13000 नए केस
दिल्ली में कोविड-19 के कारण रविवार को 273 लोगों की मौत हुई, जो 21 अप्रैल के बाद सबसे कम हैं. वहीं, 13,336 नए मरीजों की पुष्टि हुई है और संक्रमण दर 21.67 प्रतिशत हो गई है. वहीं, आप विधायक राघव चड्ढा ने रविवार को कहा कि दिल्ली को आठ मई को सिर्फ 499 मीट्रिक टन ऑक्सीजन प्राप्त हुई, जबकि सुप्रीम कोर्ट ने 700 मीट्रिक टन की औसत आपूर्ति का आदेश दिया है. वहीं, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को लॉकडाउन को एक हफ्ते यानि 17 मई तक और बढ़ाने की घोषणा कर दी है. इस दौरान मेट्रो ट्रेन की सेवाएं भी बंद रहेंगी. लॉकडाउन सोमवार को सुबह पांच बजे खत्म होना था, लेकिन अब उसे 17 मई की सुबह तक के लिए बढ़ा दिया गया है.

स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि 12 अप्रैल के बाद सबसे कम मामले आए हैं और इसकी वजह शनिवार को कम 61,552 नमूनों की जांच करना है. सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, संक्रमण दर 16 अप्रैल के बाद से कम से कम है, जब यह 19.7 प्रतिशत थी.

दिल्‍ली में कोरोना की स्‍थिति
कुल मामले: 13,23,567
कुल मृत्यु: 19,344
कुल डिस्चार्ज: 12,17,991
सक्रिय मामले: 86,232

दिल्ली में लॉकडाउन 17 मई तक बढ़ा, मेट्रो सेवाएं रहेंगी बंद
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में लागू लॉकडाउन को 17 मई तक एक और हफ्ते के लिए बढ़ाया जाएगा और इस दौरान मेट्रो ट्रेन की सेवाएं भी बंद रहेंगी. लॉकडाउन सोमवार को सुबह पांच बजे खत्म होना था, लेकिन अब उसे 17 मई की सुबह तक के लिए बढ़ा दिया गया है.

दिल्‍ली में अब शादियां केवल घर या कोर्ट में ही हो सकती हैं
दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) द्वारा जारी एक आदेश के अनुसार, अब शादियां केवल घर या अदालत में ही हो सकती हैं और इसमें 20 से ज्यादा लोग एकत्रित नहीं होंगे. इसमें कहा गया है, इस दौरान सार्वजनिक स्थानों, बैंक्वेट हॉल, होटलों और ऐसे ही अन्य स्थानों पर शादी समारोहों पर पूरी पाबंदी रहेगी. डीडीएमए ने कहा कि जिला मजिस्ट्रेट, पुलिस उपायुक्त, संबंधित प्राधिकारी यह सुनिश्चित करने के लिए जिम्मेदार होंगे कि लोग अंतर-राज्यीय बस टर्मिनल, रेलवे स्टेशनों, मंडियों और दुकानों पर कोविड-19 के अनुरूप व्यवहार करें.

संक्रमण दर में आई कमी
सीएम केजरीवाल ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में हालांकि कोविड-19 के मामलों में कमी आयी है, लेकिन महामारी की मौजूदा लहर में किसी भी प्रकार की ढिलाई अब तक हासिल की गई कामयाबी को खत्म कर देगी. उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार को कोविड-19 के मामलों में बेतहाशा वृद्धि के कारण 20 अप्रैल को लॉकडाउन लगाने के लिए मजबूर होना पड़ा था. हालांकि मामलों में गिरावट आयी है और संक्रमण दर 6 अप्रैल को सबसे अधिक 35 प्रतिशत थी और अब करीब 23 प्रतिशत पर आ गई है. मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि दिल्ली में पिछले कुछ दिनों में ऑक्सीजन आपूर्ति में सुधार हुआ है. टीकाकरण भी तेजी से चल रहा है, लेकिन अभी पर्याप्त मात्रा में टीके उपलब्ध नहीं हैं.