Akshay Navami 2019 पर व्रत रखने और पूजन का खास महत्‍व है. इस दिन भगवान विष्‍णु का पूजन किया जाता है. इस दिन आंवले के वृक्ष की पूजा होती है.

Akshay Navami 2019 Date
अक्षय नवमी 5 नवंबर, मंगलवार को है. अक्षय नवमी हर साल कार्तिक शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को मनायी जाती है.

शुभ मुहूर्त
पूजा का शुभ मुहूर्त सुबह 6:39 बजे से दोपहर 12:10 बजे तक का है.

Dev Uthani Ekadashi 2019: देवुत्‍थान एकादशी तिथि, महत्‍व, पूजन विधि…

महत्व
पौराणिक मान्यता के अनुसार, भगवान विष्णु कार्तिक शुक्ल पक्ष की नवमी से कार्तिक पूर्णिमा तक, आंवले के पेड़ पर निवास करते हैं. इसलिए अक्षय नवमी के दिन भगवान विष्णु जी का आशीर्वाद पाने के लिए उनकी आराधना की जाती है. इस व्रत को रखने और आंवले के पेड़ के पूजन से जातक को अक्षय फल प्राप्‍त होते हैं. इस दिन स्नान, पूजा, दान करने की पंरपरा भी है.

पूजन विधि
सुबह जल्दी उठें. स्नान करें. आंवले के पेड़ के आसपास साफ-सफाई करें. पेड़ की जड़ पर स्वच्छ जल चढ़ाएं. फिर दूध चढ़ाएं. पेड़ की पूजा करें. वृक्ष के तने पर कच्चा सूत या मौली बांधें. इसे 8 बार परिक्रमा करते हुए बांधें. अब मनचाहा वरदान मांगें. पेड़ नीचे बैठकर परिवार के साथ प्रसाद ग्रहण करें.

धर्म से जुड़ी अन्य खबरें पढ़ने के लिए धर्म पर क्लिक करें.