Amarnath Yatra 2019: अमरनाथ यात्रा के लिए 5,273 श्रद्धालुओं का एक और जत्था बुधवार को जम्मू से रवाना हुआ. इस साल एक जुलाई से यात्रा शुरू होने के बाद से अब तक 1.2 लाख से अधिक श्रद्धालु बाबा बर्फानी के दर्शन कर चुके हैं. Also Read - अमरनाथ यात्रा इस साल भी रद्द, कोरोना संकट को देखते हुए अमरनाथ बोर्ड का बड़ा फैसला

पुलिस ने आज यहां कहा, “5,273 यत्रियों का एक और जत्था आज सुबह भगवती नगर यात्री निवास से घाटी के लिए दो सुरक्षा काफिले में रवाना हुआ.” Also Read - अमरनाथ यात्रा शुरू होने से पहले मारा गया मोस्ट वांटेड पाक आतंकी वलीद, सेना ने कहा- यात्रियों की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध

पुलिस ने बताया, “इनमें से 1,777 बालटाल आधार शिविर जा रहे हैं जबकि 3,496 पहलगाम आधार शिविर जा रहे हैं.” Also Read - 23 जून से शुरू होगी बाबा अमरनाथ यात्रा, श्राइन बोर्ड ने वापस लिया यात्रा रद्द करने का फैसला

जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर दिग्दोल क्षेत्र में मंगलवार को एक पहाड़ी से एक पत्थर टूटकर गिरने से अमरनाथ जा रहा एक तीर्थयात्री घायल हो गया.

राजमार्ग के रामबन-रामसो इलाके में भारी बारिश, भूस्खलन और पत्थर टूट कर गिरने से मंगलवार को लगभग तीन घंटे तक यात्रियों को घाटी ले जाने वाले काफिले का आगे बढ़ना रूका रहा.

इस बीच, छड़ी मुबारक के संरक्षक स्वामी दीपेंद्र गिरि ने घोषणा की है कि ‘छड़ी मुबारक’ को 5 अगस्त को साधुओं के जुलूस में पवित्र गुफा तक ले जाया जाएगा.

‘छड़ी मुबारक’ का स्थायी निवास श्रीनगर शहर में अमरेश्वर मंदिर, दशनामी अखाड़ा है. इस साल 45 दिवसीय अमरनाथ यात्रा का समापन 15 अगस्त को श्रावण पूर्णिमा के साथ होगा.