Basant Panchami 2020: बसंत पंचमी (Basant Panchami) को सरस्‍वती पूजा भी कहा जाता है. इस दिन मां सरस्‍वती की पूजा की जाए तो मनचाहा वरदान प्राप्‍त होता है.

इस दिन कई तरह के उपाय भी किए जाते हैं. ये ऐसे उपाय हैं जो मां सरस्‍वती को प्रसन्‍न करने के लिए किए जाते हैं.

पढ़ाई में सफलता के उपाय

– जिन बच्‍चों का मन पढ़ाई-लिखाई में नहीं लगता, उन्‍हें बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती को हरे रंग का फल चढ़ाना चाहिए.

– घर में पढ़ाई के कमरे में मां सरस्वती का चित्र लगाना चाहिए, इससे पढ़ाई पर ध्‍यान टिका रहता है.

– बच्‍चे को अगर ज्ञानी बनाना है तो उसकी जीभ पर शहद से ॐ बनाएं.

– बच्‍चे किताबों पर पीले रंग का कवर चढ़ाएं और उस पर रोली से स्वास्तिक बनाएं.

Basant Panchami 2020 Panchang: बसंत पंचमी पर पहनें इस रंग के कपड़े, करें ये शुभ काम, देखें पूरे दिन का पांचांग

– मां सरस्वती के साथ श्रीगणेश की मूर्ति की पूजा जरूर करें.

मां सरस्‍वती की पूजा करें

इस दिन मां सरस्वती की खास पूजा-अर्चना की जाती है. ऐसी मान्यता है कि बसंत पंचमी के दिन देवी सरस्वती पृथ्वी पर प्रकट हुईं थीं. उन्हीं के जन्म के उत्सव पर बसंत पचंमी का त्योहार मनाया जाता है.

बसंत पंचमी का रंग- Basant Panchami Colour

बसंत पंचमी पर हर ओर हर्षोल्‍लास का वातावरण होता है. बसंत पंचमी का रंग है पीला (Yellow). इस दिन पीला रंग पहनना शुभ माना जाता है. इसका कारण है बसंत ऋतु. बसंत पंचमी पर पेड़-पौधों पर नई पत्तियां, फूल-कलियां खिलने लगती हैं. सरसों की फसल से धरती पीली नजर आती है. बसंत पंचमी के दिन पीला प्रसाद और खाना भी पीले रंग का ही बनता है.

करें ये काम

बसंत पंचमी पर मंदिर की प्राण-प्रतिष्ठा, घर की नींव, गृह प्रवेश, वाहन खरीदारी, व्यापार शुरू करने, बच्चों को विद्यारंभ जैसे शुभ कार्य करने चाहिए. इसके लिए मुहूर्त देखने की आवश्‍यकता नहीं होती. शास्‍त्रों में इस दिन को बेहद शुभ और कल्‍याणकारी बताया गया है.

धर्म की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.