भाई दूज का त्योहार गोवर्धन पूजा के दूसरे दिन मनाया जाता है, भाईदूज का पर्व कार्तिक मास में शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को मनाया जाता है. इस साल भाई दूज का त्योहार 16 नवंबर 2020 को मनाया जाएगा और इसी पर्व के साथ पंच दिवसीय दीपोत्सव का समापन भी हो जाता है. रक्षाबंधन की तरह से त्योहार भी भाई-बहन के लिए बेहद खास होता है. ये दिन भाई बहन के लिए सबसे ज्यादा खास होता, क्योंकि इस दिम बहनें अपने भाइयों को अपने घर भोजन के लिए बुलाती है और उन्हें प्यार से खाना खिलाती है. Also Read - Bhai Dooj Sooji Rasgulla Recipe 2020: आज के दिन भाई के लिए घर पर बनाएं स्वादिष्ट सूजी का रसगुल्ला, जानें रेसिपी

भैया दूज पर बहनें भाईयों के माथे पर तिलक लगाती हैं, उन्हें सूखा नारियल देकर उनकी सुख-समृद्धि व खुशहाली की कामना करती हैं. चलिए बताते हैं आखिर कैसे इस पर्व को मनाने की परंपरा शुरु हुई. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस दिन यमुना में डुबकी लगाने की परंपरा है. यमुना में स्नान करने का बड़ा ही महत्व इस दिन बताया गया है, ऐसे में चलिए जानते हैं इससे जुड़ी खास बातें. Also Read - Bhai Dooj 2020 Wishes & Images: इस भाई दूज पर अगर बहन-भाई से हैं दूर तो इन संदेशों के जरिए उन्हें भेजे शुभकामनाएं

इसीलिए मनाया जाता है भैया दूज
कथाएं हैं कि यमराज को उनकी बहन यमुना ने कई बार मिलने के लिए बुलाया, लेकिन यम नहीं जा पाए. लेकिन जब वो एक दिन अपनी बहन से मिलने पहुंचे तो उनकी बहन बेहद खुश हुई और उन्होंनेयमराज को बड़े ही प्यार व आदर से भोजन कराया और तिलक लगाकर उनकी खुशहाली की कामना की. खुश होकर यमराज ने बहन यमुना से वरदान मांगने को कहा – तब यमुना ने मांगा कि इस तरह ही आप हर साल कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया मेरे घर आया करो. वहीं इस दिन जो भी भाई अपनी बहन के घर जाएगा और उनके घर में भोजन करेगा व बहन से तिलक करवाएगा तो उसे यम व अकाल मृत्यु का भय नहीं होगा. यमराज ने उनका ये वरदान मान लिया औऱ तभी से त्योहार मनाया जाने लगा. Also Read - Bhai Dooj 2020 Gift Idea: इस भाई दूज पर अपनी बहनों को दे ये स्पेशल गिफ्ट, यहां से लें खास आइडिया

भाईदूज पर तिलक का शुभ मुहूर्त-

भाई दूज तिलक समय- 01:10 बजे से 03:18 बजे तक.
अवधि- 2 घंटा 8 मिनट.
द्वितीया तिथि प्रारंभ-16 नवंबर 2020 को सुबह 07:06 बजे से.
द्वितीया तिथि समाप्त- 17 नवंबर 2020 को सुबह 03:56 बजे तक.