Budh Pradosh Vrat 2021 July: बुध प्रदोष व्रत पर ऐसे करें भगवान शिव की पूजा, जानें महत्व, शुभ मुहूर्त

ये व्रत रखने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है. इस व्रत को बेहद फलदायी माना गया है.

Published: July 6, 2021 5:43 PM IST

By Arti Mishra

Pradosh Vrat 2022 list in hindi
Pradosh Vrat 2022 list in hindi

Budh Pradosh Vrat 2021 July: प्रदोष व्रत पर भगवान शिव का पूजन किया जाता है. ये व्रत रखने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है. इस व्रत को बेहद फलदायी माना गया है. इस व्रत को रखने से भगवान शिव के साथ मां पार्वती का आशीर्वाद भी प्राप्त होता है.

Also Read:

बुध प्रदोष व्रत
जुलाई माह में प्रदोष व्रत 07 जुलाई, बुधवार को है. बुधवार को होने के कारण ये बुध प्रदोष व्रत है.

बुध प्रदोष व्रत का महत्व
भगवान शिव को त्रयोदशी तिथि अत्यंत प्रिय है. इस दिन का प्रदोष काल और भी विशेष होता है. जो लोग इस दिन व्रत रखते हैं और प्रदोष काल में शिव-पार्वती जी का पूजन करते हैं, उनके समस्त पाप नष्ट हो जाते हैं. दुख दूर होते हैं. अक्षय सुख की प्राप्ति होती है. जीवन में सुख-समृद्धि आती है. दुश्मनों का अंत हो जाता है. बुध प्रदोष व्रत रखने से नौकरी में मनचाही सफलता मिलती है.

बुध प्रदोष व्रत शुभ मुहूर्त
प्रदोष व्रत में भगवान शिव की पूजा प्रदोष काल में की जाती है. पूजा शाम के समय सूर्यास्त से 45 मिनट पूर्व और सूर्यास्त के 45 मिनट बाद तक की जाती है. बुधवार की शाम 7:23 बजे से रात 9:24 बजे तक प्रदोष काल का शुभ समय रहेगा.

भगवान शिव के मंत्र

  1. ऊं नम: शिवाय
  2. ऊं सद्योजाताय नम:
  3. ऊं वामदेवाय नम:
  4. ऊं अघोराय नम:
  5. ऊं ईशानाय नम:
  6. ऊं तत्पुरुषाय नम:

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें धर्म की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date: July 6, 2021 5:43 PM IST