चैत्र नवरात्रि (Chaitra Navratri 2019) में मां की पूजा का विशेष महत्‍व होता है. इस दौरान विधि-विधान से पूजा की जाए तो मां की विशेष कृपा प्राप्‍त होती है. Also Read - Navratri 2019: मां भगवती के 32 मंगलमयी नाम, इनका करें जाप, बन जाएंगे सारे बिगड़े काम

Chaitra Navratri 2019: नवरात्रि के 9 दिन बन रहे नौ प्रबल योग, पूजा का मिलेगा दोगुना फल, इन कामों के लिए शुभ… Also Read - Happy Ram Navami 2019: राम नवमी पर भेजें ये बधाई संदेश, Quotes, WhatsApp, Greetings

दुर्गा सप्‍तशती
दुर्गा सप्तशती में 13 अध्याय हैं. इन्‍हें तीन हिस्सों में बांटा गया है. पहले में मधु कैटभ वध की कथा है. दूसरे में महिषासुर वध की कथा है. तीसरे में शुम्भ-निशुम्भ वध व सुरथ-वैश्य को मिले देवी वरदान की कथा है. Also Read - Durga Ashtami 2019 Wishes: दुर्गा अष्‍टमी पर भेजें ये Quotes, SMS, WhatsApp, Images

दुर्गा सप्‍तशती का महत्‍व
कहा जाता है कि नवरात्रि में दुर्गा सप्तशती का पाठ करने का दोगुना फल प्राप्‍त होता है. इससे शांति, धन, सुख- समृद्धि, यश, मान- सम्मान मिलता है. हर अध्याय के पाठ का अलग-अलग फल बताया गया है. अलग- अलग मनोकामना के अनुसार दुर्गा सप्तशती का पाठ करने का विधान है.

Chaitra Navratri 2019: कब से शुरू होंगी चैत्र नवरात्रि, कलश स्‍थापना का शुभ मुहूर्त…

ग्रहों की शांति के मंत्र
नवरात्र के दौरान देवी के इस मंत्र का प्रतिदिन 21 बार जाप करें.

ऊं सर्वमंगलमांगल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके, शरण्ये त्र्यम्बके गौरी नारायणि नमोस्तु ते।।’

Chaitra Navratri 2019
चैत्र नवरात्रि इस बार 6 अप्रैल, शनिवार से आरंभ होंगी. इस बार पूरे 9 दिन का पर्व मनेगा.

धर्म की और खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.