Chaitra Navratri 2020: चैत्र नवरात्रि का पर्व चल रहा है. हर साल इस समय में मंदिरों में काफी भीड़ होती है. पर इस बार कोरोनावायरस के चलते देश भर में लॉकडाउन है. मंदिर बंद हैं. घर से बाहर निकलने पर पाबंदी है. Also Read - Navratri 2020 Kanya Pujan: आज अष्टमी-नवमी, इस शुभ मुहूर्त पर करें कन्या पूजन, ये है पूजा की विधि

अगर आप भी इसी सोच में हैं कि इस बार कैसे बिन देवी पूजन आपका व्रत पूरा होगा तो आप आपको बताते हैं वो कार्य जिन्हें घर पर रहकर आप कर सकते हैं. इनसे देवी बेहद प्रसन्न होती हैं. Also Read - Navratri 2020: शीघ्र विवाह और धन प्राप्ति के लिए माता दुर्गा की पान के पत्तों से करें पूजा, मनोकामनाएं होंगी पूरी

– जब आप सुबह उठें तो अपने हथेलियों का दर्शन करें. ये मंत्र बोलें- कराग्रे वसते लक्ष्मी, करमध्ये सरस्वती, करमूले तू गोविन्दः प्रभाते करदर्शनम्॥ Also Read - Navratri 2020 Sandhi Puja: क्या होती है संधि पूजा? जानें शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और महत्व

– नहाते समय इस मंत्र का जाप करें- गंगे च यमुने चैव गोदावरी सरस्वती। नर्मदे सिंधु कावेरी जले अस्मिन् सन्निधिम् कुरु. इस मंत्र का जप करने से तीर्थ स्नान का पुण्य प्राप्त होता है.

– स्नान के बाद सूर्य को जल चढ़ाएं. सूर्य को जल अर्पित करते हुए ऊँ सूर्याय नम: मंत्र का जप करें.

– जब भी पूजा शुरू करें तो सबसे पहले गणेश पूजन करें. इसके पश्चात ही देवी का पूजन आरंभ करें.

– देवी को हलवे का भोग अर्पित करें. मां को लाल चुनरी चढ़ाएं. ऊं दुं दुर्गायै नम:, इस मंत्र का जप करें.

इस बार नवरात्रि पूरे 9 दिन की है. यानी एक भी दिन कम नहीं है. जब भी 9 दिन की नवरात्रि होती है, उसे शुभता और खुशहाली का प्रतीक माना जाता है. चैत्र नवरात्र‍ि में इस बार कई शुभ योग बन रहे हैं. 4 सर्वाथ सिद्धि योग, 5 रवि योग, एक द्व‍िपुष्‍कर योग और एक गुरु पुष्‍य योग बनेगा.